कंगना पर संजय राउत का पलटवार, बोले- POK जाना है तो जाएं खर्च हम देंगे, जिस थाली में खाया उसी में थूक रहीं हैं''

9/4/2020 5:34:36 PM

बॉलीवुड तड़का टीम. एक्ट्रेस कंगना रनौत अपने मुंबई वाले ट्वीट को लेकर लगातार सुर्खियों में बनी हुई हैं। कोई उनकी उस ट्वीट का समर्थन कर रहा है तो कोई कंगना को ही खरी-खोटी सुना रहा है। लेकिन कंगना को लोगों की बातों का कोई फर्क नहीं पड़ता, वो बिना किसी डर के अपनी बात कह जाती है। हाल ही में कंगना ने ओपन चैलेंज देते हुए कहा कि वो मुंबई आ रही है, किसी के बाप में दम है तो रोक ले। कंगना के इस ट्वीट के बाद संजय राउत ने कहा है कि हम फोकट की धमकियां देने वाले नहीं है।



दरअसल, बीते दिन कंगना ने संजय राउत ने मुंबई न लौटने की धमकी देने का आरोप लगाया था और कहा था कि क्यों उन्हें मुंबई में पीओके जैसा फील हो रहा है। आज फिर कंगना ने ट्वीट करते हुए कहा कि उन्हें कहीं न कहीं से मुंबई न लौटने की धमकियां मिल रही है। वो 9 सितंबर को मुंबई वापस लौट रही है। किसी के बाप में दम है तो रोक ले। 


बस इसी ट्वीट के बाद अब संजय राउत का हमला बोलते हुए कहा कि उन्होंने (कंगना ने) मुंबई में रहकर शोहरत और पैसा कमाया, मुंबई पुलिस ने उनकी हिफाज़त की, मुंबई हमले में लोगों को बचाया, कसाब को पकड़ा और कोरोना बोहरान में अपनी जान दी और पुलिस पर ही इल्ज़ाम लगाया जा रहा है।

PunjabKesari


पढ़ी लिखी महिला हैं। उन्हें यह शोभा देता है। यह मेंटल केस है। जिस तरह से लोग बोल रहे हैं । झांसी की रानी का अपमान करते हैं। आपकी मानसिकता क्या है। धमकियां देना मेरा काम नहीं है। हवा तलवार चलाना। हवा में बंदूक चलाना हमारा काम नहीं है।

PunjabKesari


इतना ही नहीं संजय राउत ने आगे कहा कि जिस थाली में खा रही हैं, उसी में थूक रही हैं। कुछ सियासी पार्टी उनकी हिमायत कर रही हैं। राउत ने कंगना के POK वाले बयान पर कहा कि अगर वो पीओके जाना चाहती हैं तो जाएं, हुकूमत को उनकी ट्रिप का पैसा देना चाहिए। अगर नहीं तो फिर हम ही पैसा दे देंगे।

न सिर्फ संजय राउत ने ही कंगना पर निशाना साधा बल्कि महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने भी मीडिया से बात करते हुए कहा, 'मुंबई पुलिस की तुलना स्‍कॉटलैंड यार्ड की पुलिस से होती है। लेकिन कुछ लोग मुंबई पुलिस को निशाना बना रहे हैं। एक आईपीएस अध‍िकारी को तो उनके (कंगना रनौत) के बयान के बाद कोर्ट जाना पड़ा, क्‍योंकि यह मुंबई पुलिस के अपमान का मामला है। उन्‍हें महाराष्‍ट्र या मुंबई में रहने का कोई अध‍िकार नहीं है।'

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

suman prajapati


Recommended News

static