चार लड़कों की हवस की शिकार नाबालिग थाने पहुंची तो SHO ने किया रेप,रितेश देशमुख-''रक्षक ही भक्षक बन जाए तो न्याय मांगने कहां जाएं''

5/6/2022 8:01:34 AM

मुंबई: बलात्कार भारत में महिलाओं के खिलाफ चौथा सबसे आम अपराध है। हर साल रेप के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। हर 16 मिनट में भारत में कहीं ना कहीं किसी लड़की का बलात्कार होता है। हाल ही में ऐसा ही एक मामला सामना आया है। उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिले की 13 साल की एक लड़की के साथ चार लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया और उसका अपहरण कर लिया।

PunjabKesari

मानवता को उस समय शर्मशार हुई जब रक्षक ने भक्षक बनते हुए यानि थाना प्रभारी ने भी सामुहिक दुष्कर्म पीड़िता को अपनी हवस का शिकार बनाया। 13 साल की एक बच्ची से जिस तरह दरिंदगी हुई उसने कानून-व्यवस्था पर ना सिर्फ गंभीर सवाल खड़े कर दिए हैं बल्कि यह सोचने पर भी मजबूर कर दिया है कि यदि रक्षक ही भक्षक हो जाएंगे तो फिर न्याय मांगने लोग कहां जाएंगे?

PunjabKesari

जैसे ही ये खबर सामने आई तो हर किसी का इस पर गुस्सा फूटा। आम जनता से लेकर बाॅलीवुड स्टार्स ने इस पर अपना गुस्सा जाहिर किया।  बॉलीवुड एक्टर रितेश देशमुख  ने हाल ही में एक स्टेशन हाउस अधिकारी द्वारा 13 वर्षीय लड़की के बलात्कार के खिलाफ आवाज उठाते हुए आरोपियों पर सख्त कार्यवाही की मांग की। उन्होंने सवाल उठाया कि अगर रक्षक ही भक्षक बन जाएंगे तो आम जनता न्याय मांगने कहां जाएगी।  

PunjabKesari

रितेश के ट्वीट को देखकर ऐसा लग रहा है कि वो इस घटना से काफी आहत हुए हैं और इसीलिए उन्होंने बच्ची के लिए न्याय की मांग की है। रितेश ने लिखा-'अगर यह सच है तो इससे बुरा कुछ नहीं हो सकता। अगर रक्षक ही भक्षक बन गया तो लोग न्याय मांगने कहां जाएंगे? ऐसे लोगों को सड़कों पर फांसी देनी चाहिए। सरकार को जल्द से जल्द कार्रवाई करनी चाहिए।'

PunjabKesari

सामूहिक दुष्कर्म की शिकार हुई 13 साल की किशोरी के साथ 27 अप्रैल को पाली थाने के एसओ तिलकधारी सरोज ने थाना परिसर में बने अपने आवास में दुष्कर्म किया था। किशोरी को थानाध्यक्ष ने उसकी मौसी के जरिए बयान दर्ज करने के बहाने बुलाया था। इसका खुलासा किशोरी द्वारा चाइल्ड लाइन को दिए गए बयान से हुआ था। इस मामले में मंगलवार को एसओ समेत छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। एसओ को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया था। इसके अलावा थाने के अन्य सभी पुलिसकर्मियों को पहले ही ड्यूटी से निलंबित कर दिया गया है। मामले की जांच डीआईजी स्तर पर की जा रही है और 24 घंटे के अंदर रिपोर्ट देने को कहा गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Smita Sharma


Related News

Recommended News