दुश्मनों के छक्के छुड़ाती दिखीं Parineeti Chopra, एक्शन से भरपूर है ''कोड नेम तिरंगा''

10/14/2022 12:54:51 PM

दुश्मनों के छक्के छुड़ाती दिखीं Parineeti Chopra, एक्शन से भरपूर है 'कोड नेम तिरंगा'
Rating :  3
Cast :  परिणीति चोपड़ा , हार्डी संधू , शरद केलकर , दिब्येंदु भट्टाचार्य , शिशिर शर्मा , रजित कपूर और सव्यसाची भट्टाचार्य
Director: रिभु दासगुप्ता

पिछले कुछ समय से एक्ट्रेस परणीति चोपड़ा ने बॉलीवुड से दूरी बनाई हुई थी लेकिन अब वो अपनी नई फिल्म के साथ वापसीकर चुकी हैं अलग-अलग किरदारों को पर्दे पर निभाने के बाद परिणीति अब एक्शन अवतार में दर्शकों के सामने आई है फील 'कोड नेम :तिरंगा' के जरिये . 'कोड नेम तिरंगा' नाम से ही पता चल गया कि कहानी किसी एजेंट की है जो देश के लिए किसी मिशन पर जाएगा लेकिन इस बार मिशन पर हीरो नहीं हीरोइन जाएगी , रिभू दासगुप्ता के निर्देशन में बनी फिल्म 'कोड नेम तिरंगा' में परिणीति चोपड़ा, हार्डी संधू, शरद केलकर, दिब्येंदु भट्टाचार्य, शिशिर शर्मा, सब्यसाची चक्रवर्ती और रजित कपूर जैसे कलाकार अहम किरदारों में हैं. फिल्म में परिणीति चोपड़ा रॉ एजेंट की भूमिका में हैं, जबकि शरद केलकर आतंकवादी के किरदार में नजर आए
कहानी –
फिल्म की कहानी दुर्गा नाम की एजेंट की है जो विदेश में एक मिशन पर है. ये किरदार परिणीती चोपड़ा ने निभाया है. असल में उसे 2001 में संसद पर हमला करने के मास्टरमाइंड खालिद उमर (शारद केलकर) को पकड़ने का काम सौंपा जाता है। अपने मिशन को पूरा करने के लिए वह डॉक्टर मिर्जा अली (हार्डी संधू) से निकाह करके उसका इस्तेमाल करती है। हालांकि वह मिर्जा से मोहब्बत करती है, मगर उसे अपने असाइनमेंट को किसी भी हाल में पूरा करना है इसलिए वो अपने प्यार को भी जोखिम में डाल देती है। उसके इस मिशन में उसका साथ देते हैं उसके जासूस अफसर राजित कपूर और दिब्येंदु भट्टाचार्य। दुर्गा को अपने मिशन को पूरा करने के लिए बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ती है

एक्टिंग –
परिणीति चोपड़ा एक्शन अवतार के साथ-साथ अपने इमोशनल पक्ष को बखूबी जी जाती हैं। देखकर लगता है कि परिणीति ने मेहनत की है , पंजाबी सिंगर हार्डी संधू मिर्जा की भूमिका में जंचते हैं। खालिद उमर के रूप में शरद केलकर की भूमिका में नएपन का अभाव है। इस तरह के आतंकी को हम फिल्मों में पहले भी देख चुके हैं। अंडरकवर एजेंट के तौर में रजित कपूर और दिब्येंदु भट्टाचार्य ने अपनी भूमिकाओं संग न्याय किया है।

रिव्यू -  
फिल्म की सिनेमेटोग्राफी अच्छी है. लोकेशन अच्छी है. म्यूजिक अच्छा है. इस फिल्म की सबसे बड़ी दिक्कत इसकी कहानी है.  फिल्म कोड नेम तिरंगा की कहनी कुछ नई नहीं है, हर बार की तरह आतंकवाद और रॉ से जोड़ी गई है।  एक्टिंग तो सबकी अच्छी है लेकिन इतने दमदार एक्टर्स को जिस तरह के डायलॉग औऱ कहानी दी गई वो कमाल नहीं दिखा पाती.


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Dishant Kumar


Related News

Recommended News