केंद्र सरकार ने OTT प्लेटफॉर्म्स को लेकर लिया बड़ा फैसला, ऑनलाइन कंटेट पर पैनी नजर रखेगा सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय

11/12/2020 12:02:59 PM

बॉलीवुड तड़का टीम. देश में इन दिनों ओटीटी प्लेटफॉर्मों का चलन काफी तेजी से बढ़ रहा है। ओटीटी प्लेटफॉर्मों पर दिखाई जाने वाली वेबसीरीज और फिल्मों के कंटेट को भी खूब पसंद किया जा रहा है, लेकिन कई बार इस पर दिखाए जाने वाले एडल्ट और हिंसा के सीन पर काफी बवाल खड़ा हो जाता है। बीते बुधवार केंद्र सरकार ने नेटफ्लिक्स, हॉटस्टार, अमेजन प्राइम जैसे ओटीटी प्लेटफॉर्म्स को लेकर एक बड़ा कानून लागू कर दिया है।

PunjabKesari


बीते दिन कैबिनेट सेक्रेटरी ने राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद के हस्ताक्षर वाला एक नोटिफिकेशन जारी किया। जिसके अनुसार अब से ऑनलाइन फिल्मों के साथ ऑडियो-विज़ुअल कार्यक्रम, ऑनलाइन समाचार और करंट अफेयर्स के कंटेंट सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत आएंगे। यानि अब सभी प्लेटफार्म्स पर MIB की पूरी नजर होगी और इससे इन प्लेटफॉर्म्स पर दिखाई जा रही हिंसा और वल्गरिटी पर कुछ लगाम लगने में मदद मिलेगी।

PunjabKesari


नोटिफिकेशन में कहा गया, 'संविधान के अनुच्छेद 77 के खंड (3) के तहत प्रदत शक्तियों का उपयोग करते हुए भारत सरकार (बिजनेस आवंटन) नियमावली, 1961 में संशोधन करके ऐसा किया गया है।'  

PunjabKesari


बता दें अब तक इन प्लेटफॉर्म्स के रेगुलेशन और नियंत्रण के लिए कोई संस्था नहीं थी और इसके कारण ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर दिखाए जाने वाले कंटेंट के नाम पर काफी हिंसा और न्यूडिटी दिखाई जा रही थी। जिसका कई बार विरोध भी हो चुका है। लेकिन अब इन सब प्लेटफॉर्मों का नियंत्रण सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के हाथों होगा। अब ये मिनिस्ट्री कंटेंट प्रोवाइडर्स को सीन हटाने या बदलाव करने के लिए भी कह सकता है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

suman prajapati


Related News

Recommended News