Review: देशभक्ति के नाम पर डायलॉग्स की भरमार, बेहद नाटकीय लगती है अजय देवगन की फिल्म ‘भुज: द प्राइड ऑफ इंडिया’

8/14/2021 1:05:52 PM

फिल्म:  भुज: द प्राइड ऑफ इंडिया
लेखक: रितेश शाह, अभिषेक दुधैया, रमन कुमार, पूजा भावोरिया
कलाकार: अजय देवगन, संजय दत्त, शरद केलकर, सोनाक्षी सिन्हा, नोरा फतेही, एमी विर्क आदि।
निर्देशक: अभिषेक दुधैया
ओटीटी: डिज्नी प्लस हॉट स्टार

बॉलीवुड तड़का टीम. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देशभक्ति से प्रेरित फिल्में रिलीज होती रही हैं। इस साल भी स्वतंत्रता दिवस से पहले देशभक्ति की फिल्मों की रिलीजिंंग की लाइन लगी है। सिद्धार्थ मल्होत्रा की ‘शेरशाह’ के बाद अब अजय देवगन की ‘भुज: द प्राइड ऑफ इंडिया’ रिलीज हो चुकी है। यह फिल्म ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज की गई है। अगर आप फिल्म देखने की तैयारी में हैं तो एक बार जान ले इसका रिव्यू...

PunjabKesari

 

कहानी
फिल्म की शुरुआत भारतीय एयरबेस पर पाकिस्तानी वायु सेना के जबरदस्त हमले से होती है। अजय देवगन बताते हैं कि ईस्ट पाकिस्तान और वेस्ट पाकिस्तान अलग हो गए हैं, जिसके बाद बंगाली मुसलमानों पर पाकिस्तानी सेना का जुल्म जारी है। इस जंग में कई जवान शहीद हो जाते हैं। पाक राष्ट्रपति याह्या खान की योजना है कि भारत के भुज एयरबेस पर कब्जा किया जाए। वह भुज एयरबेस पर फाइटर जेट्स भेजते हैं जिससे नुकसान होता है। इस फिल्म के अगले हाफ में अजय देवगन कई और बड़े ब्लास्ट का सामना करते हैं और उनका बाल भी बांका नहीं होता। 

PunjabKesari

 


रिव्यू
फिल्म की शुरूआत ऐसे होती है कि देखने वाले को आभास हो जाता है कि उनके खास  कुछ मिलने वाला नही है। मुस्लिम पुरुषों की इमेज और भी नाटकीय लगती है, यानि फिल्‍म में सबसे बड़ी कमी है असलीयत की। फिल्म में क‍िरदारों के डायलॉग्स की भरमार है। नोरा फतेही का सीक्‍वेंस तो बहुत ज्‍यादा ही बनावटी लगता है, लेकिन इस बात को नकारा नहीं जा सकता है कि अजय देवगन और शरद केलकर ने फिल्म में बखूबी काम किया है। उनका किरदार काफी ओरिजनल लगता है।

 

PunjabKesari

 

 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

suman prajapati


Related News

Recommended News