नेगेटिव किरदारों के चलते रियल लाइफ में भी बिंदू को वैंप समझने लगे थे लोग, दर्द बयां करते हुए बोलीं- ''मुझे देख औरतें अपने पतियों को छिपा लेतीं थी''

12/6/2021 11:49:53 AM

मुंबई. एक्ट्रेस बिंदू ने 70 दशक के लोगों के दिलों पर राज किया था। एक्ट्रेस ने कई हिट फिल्मों में काम किया। फिर अचानक ही एक्ट्रेस पर्दे से गायब हो गई लेकिन आज भी लोग उन्हें याद करते हैं। बिंदू ने अपने 50 साल के करियर में खूब वैंप वाले किरदार निभाए। कई किरदार एक्ट्रेस पर भी भारी पड़ गए। हाल ही में बिंदू ने अपने करियर को लेकर बात की है और बताया कि नेगेटिव किरदारों का असल जिंदगी पर क्या प्रभाव पड़ा।

PunjabKesari
बिंदू ने आगे कहा- 'जब मेल फैंस मुझसे मिलने आते थे तो उनकी पत्नियां उन्हें खींच लेती थीं। औरतें अपने पतियों को मुझसे छिपा लेती थीं। उन्हें डर था कि ये डोरे डालेगी। लेकिन अब लोग रील और रियल के बीच अंतर समझ गए हैं। असल में मेरा दिल बहुत सॉफ्ट है। अगर किसी का दिल मेरी वजह से दुखता है तो मुझे बहुत बुरा लगता है।'

PunjabKesari
बिंदू ने आगे कहा- 'एक बार मैं और राखी पब्लिक में प्यार से गले मिल रहे थे। तभी मैंने भीड़ में किसी को कहते सुना, 'राखी, बिंदू से गले क्यों मिल रही है? उन्हें लगा कि मैं बहुत बुरी हूं। गालियां तो देते थे थिएटर में भी। लेकिन मैंने उन्हें तारीफों के तौर पर लिया। वो गालियां मेरा अवॉर्ड थीं। प्राण साहब के साथ 'राज की बात कह दूं तो' कव्वाली के दौरान दर्शकों ने थिएटरों में स्क्रीन पर सिक्के भी फैंके थे।'

PunjabKesari
बता दें बिंदू के पिता नानूभाई देसाई फिल्म प्रोड्यूसर थे। जब बिंदू 13 साल की थीं तो उनके पिता का निधन हो गया था। बिंदू घर में सबसे बड़ी थीं, इसलिए परिवार की आर्थिक जिम्मेदारी उन्हीं पर आ गई। तब बिंदू ने फिल्मों में कदम रखा। 1969 में बिंदू को 'दो रास्ते' और 'इत्तेफाक' जैसी फिल्मों से सफलता मिली और छा गईं। बिंदू ने राजेश खन्ना और प्रेम चोपड़ा से लेकर अमिताभ बच्चन के साथ काम किया और कई यादगार फिल्में दीं। बिंदू को अपने करियर पर ब्रेक तब लगाना पड़ा। जब फैंस उन्हें खून से चिट्ठी लिखने लग और शादी के लिए कहने लगे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Parminder Kaur


Related News

Recommended News