SECOND LAST SONG

''ओह चौबर दे चेहरे उत्ते नूर दसदां.. एहदा उठेगा जवानी विच जनाजा मिठ्ठिये’ सच हो गए सिद्धू मूसेवाला के बोल