''बुर्का पहनो, अपने देश जाकर गैंगरेप करवाओ'' प्रियंका चोपड़ा का हॉलीवुड सफर नहीं था आसान,सुनने पड़े थे ये कमेंट

2/24/2021 10:48:07 AM

मुंबई: बाॅलीवुड की 'देसी गर्ल' प्रियंका चोपड़ा का सिक्का आज पूरी दुनिया में चल रहा है। साधारण और गैर फ‍िल्‍मी परिवार से आने वाली प्रियंका ने अपनी मेहनत और लगन के बल पर यह मुकाम पाया है।प्रियंका के फैंस केवल भारत में बल्कि दुनियाभर में मौजूद हैं। प्रियंका उन चुनिंदा बॉलीवुड हसीनाओं में से एक हैं जिन्‍होंने हॉलीवुड तक का सफर तय किया है। आज वह उस स्टारडम को जी रही हैं जिसे पाना हर किसी का ख्‍वाब होता है हालांकि पीसी का यह सफर इतना आसान नहीं रहा।

PunjabKesari

प्रियंका ने ये मुकाम पाने के लिए काफी कुछ झेला है प्रियंका चोपड़ा ने किन किन परिस्थितियों का सामना किया, इसका खुलासा भी उन्‍होंने खुद अपनी बुक UNFINISHED में किया। इस बुक में उन्होंने बताया कि उन्हें रेप की धमकी से लेकर बुर्का पहनने तक कहा गया। 

PunjabKesari

प्रियंका चोपड़ा ने किताब में लिखा है कि उनको 'ब्राउन टेररिस्ट' कहा गया था। यह तब की बात है जब 2012 में उनका पहला गाना 'इन माई सिटी' रिलीज हुआ था। इस किताब में प्रियंका लिखती हैं- 'मेरा एक्साइटमेंट बहुत जल्दी ठंडा पड़ गया।

PunjabKesari

ढेर सारे रेसिस्ट नफरत वाले मेल और ट्वीट्स के बाद यूनाइटेड स्टेट्स के इतने बड़े प्लेटफार्म पर मेरे सिंगर डेब्यू का एक्साइटमेंट पूरी तरह से खत्म हो गया।' प्रियंका ने आगे लिखा कि उनको बहुत घटिया मेल मेसेजस मिले थे जैसे, अमेरिकियों के गेम में एक ब्राउन टेररिस्ट क्या कर रही है? मिडिल ईस्ट जाकर अपना बुर्का पहनो...और इतने साल बाद यह आज भी लिखना मुश्किल है- अपने देश वापस जाकर अपना गैंगरेप करवाओ।

PunjabKesari

इसके अलावा पीसी ने  अपनी जिंदगी के उस समय के बारे में खुलासा करते हुए लिखा कि उन्हें बचपन में भी भारतीय होने की वजह बुली किया जाता था
प्रियंका का जन्म भारत में हुआ था, लेकिन जब वह 12 साल की थी वह अमेरिका चली गई थीं। प्रियंका चोपड़ा अपने परिवार के साथ काफी समय तक अमेरिका रही थीं, जहां उन्होंने एक अमेरिकी हाई स्कूल में पढ़ाई की। 

PunjabKesari

प्रियंका ने कहा-'जब मैं अमेरिका के स्कूल में थी तब मुझे बहुत परेशान किया जाता था। मुझे कहा जाता था ब्राउनी अपने देश वापस लौट जाओ। तुम जिस हाथी पर आई थीं उस ही पर बैठकर यहां से निकल जाओ। बच्चे मेरे साथ बहुत बदसलूकी करते थे। इन सभी चीजों को मैने व्यक्तिगत रूप से लिया था और मैंने अपना आत्मविश्वास खो दिया था, मैं हमेशा अपने आप को एक आश्वस्त व्यक्ति मानती थी, लेकिन मैं जहां थी, मैं उस से बहुत अनिश्चित हो गई थी।' 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Smita Sharma


Related News

Recommended News