Review :   पिता की हत्या के बाद बदला लेने की कहानी है ''द लॉयन किंग''

7/16/2019 12:52:25 PM

तड़का टीम. हॉलीवुड की एनीमेटेड ड्रामा फिल्म 'द लॉयन किंग' रिलीज हो चुकी है। इस फिल्म को समीक्षकों ने 3.5 स्टार दिए हैं। यह फिल्म इन दिनों शाहरुख खान की वजह से भी चर्चा में है। दरअसल, किंग खान और उनके बड़े बेटे आर्यन खान ने इस मूवी के हिंदी संस्करण में डबिंग की है। आर्यन खान ने सिम्बा  के किरदार को अपनी आवाज दी है, जबकि शाहरुख ने मुफासा के किरदार को अपनी आवाज दी है। द लायन किंग स्टोरी: 1994 में आई एनिमेटेड फिल्म पर आधारित, 'द लायन किंग' कहानी एक यंग लॉयन की लाइफ पर बेस्ड है, जिसकी जिंदगी उसके पिता की हत्या के बाद बदल जाती है।  

PunjabKesari

पहली बार 1994 में आई  'द लायन'  एनिमेटेड म्यूजिकल ड्रामा फिल्म नब्बे के दशक के बच्चों की फेवरिट रही है और यह फिल्म उसी एनिमेटेड क्लासिक का कंप्यूटर-एनिमेटेड रीमेक है। मूवी में कंप्यूटर एनीमेशन तकनीक का काफी अच्छा इस्तेमाल किया गया है। कई दृश्य तो वास्तव में चौंका देने वाले हैं। कई बार आश्चर्यचकित रह जाएंगे कि आप एक वाइल्ड लाइफ डाक्यूमेंट्री देख रहे हैं। अगर आपने 1994 में आया फर्स्ट पार्ट देखा है तो इसकी कहानी आपको आसानी से समझ में आ जाएगी।   

PunjabKesari


 'द लायन किंग' कहानी  की शुरू होती है  गौरव भूमि कहे जाने वाले जंगल के राजा शेर मुफासा (शाहरुख खान की आवाज) और उनके बेटे सिंबा (आर्यन खान की आवाज) के भावनात्मक रिश्ते के साथ। सिंबा के जन्म पर पूरा जंगल खुशी से झूम उठता है, सिवाय मुफासा के भाई स्कार (आशीष विद्यार्थी) के। मुफासा के बाद सिंबा जंगल का राजा बनेगा, यह जानने के बाद स्कार उसे रास्ते से हटाने का प्लान बनाने लगता है और एक दिन शेरों के दुश्मन लकड़बग्घों के साथ मिलकर मुफासा को मारने में कामयाब भी हो जाता है और उसकी मौत का ठीकरा मासूम सिंबा पर फोड़कर उसे जंगल से भागने पर मजबूर कर देता है। सिंबा अपने घर-परिवार से दूर किन हालातों में बड़ा होता है और वापस घर लौटता है, यह सब जानने के लिए फिल्म देखनी होगी। 

 

 

 


Smita Sharma