फेक साइन मामले में श्वेता तिवारी को कोर्ट से मिली राहत! अपने ही आरोपों को लेकर उलझे अभिनव कोहली

7/28/2021 11:38:21 AM

मुंबई: श्वेता तिवारी और उनके पूर्व पति अभिनव कोहली के बीच का विवाद तो जग जाहिर हैं। दोनों ही आए दिन एक-दूसरे पर गंभीर आरोप लगाते रहते हैं। कुछ महीने पहले  अभिनव कोहली ने श्वेता तिवारी खिलाफ केस दर्ज करवाया था,जिसमें अब एक्ट्रेस को कोर्ट की तरफ से राहत मिल गई है। दरअसल, जब श्वेता तिवारी रियलिटी शो 'खतरों के खिलाड़ी 11' की शूटिंग के लिए देश से बाहर केप टाउन गई थीं तब अभिनव कोहली ने सोशल मीडिया से लेकर पुलिस तक में श्वेता खिलाफ बयान दिए थे। जानकारी आई थी कि अभिनव ने श्वेता के खिलाफ एक पुराने विवाद को लेकर  FIR दर्ज कराई थी। यह FIR साल 2017 की एक घटना से संबंधित है।  

PunjabKesari

एक न्यूज पोर्टल के मुताबिक श्वेता तिवारी पर अभिनव ने 2017 के आरोप के आधार पर FIR दर्ज कराई। अभिनव ने श्वेता पर  फर्जी NOC बनाकर उनके नाबालिग बेटे को UK यात्रा करने की इजाजत लेने का आरोप लगाया था।

PunjabKesari

अपने ही आरोपों को लेकर उलझे अभिनव कोहली

पोर्टल के मुताबिक सोर्स ने बताया कि यह एफआईआर थोड़ी अजीब थी क्योंकि उसी साल अभिनव ने खुद श्वेता तिवारी को एक NOC दिया जिसके मुताबिक वह उसी देश में बेटे रेयांश को साथ ले जाने के लिए वीजा अप्लाई कर सकती थीं जहां वह जा रही थीं।

PunjabKesari

यहां सवाल यह है कि अगर श्वेता तिवारी ने NOC पर अभिनव के जाली सिग्नेचर किए थे तो फिर अभिनव ने उसी साल बाद में एक और NOC क्यों दिया जोकि बेटे रेयांश के उसी देश में यात्रा करने के लिए वीजा को लेकर था। अगर जाली सिग्नेचर वाला काम 2017 में किया गया तो फिर अभिनव ने 2021 तक इंतजार क्यों किया? यही वजह है कि इस मामले में सेशन कोर्ट ने श्वेता तिवारी को जमानत दे दी है। 

PunjabKesari

बता दें कि श्वेता तिवारी और अभिनव कोहली के बीच काफी वक्त से विवाद चल रहा है। कुछ महीने पहले ऐक्ट्रेस ने अपनी सोसाइटी का सीसीटीवी फुटेज शेयर किया था जिसमें जिसमें बेटे रेयांश को लेकर उनकी और अभिनव की झड़प हो रही थी।जहां श्वेता ने बेटे को डराने और धमकाने का आरोप लगाते हुए वीडियो शेयर किया, वहीं अभिनव ने भी अपना पक्ष रखते हुए 1 घंटे से भी लंबा वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया था।
 


Content Writer

Smita Sharma


Recommended News