जेल के वो 28 दिनः कैदियों के साथ योगा करती थीं रिया चक्रवर्ती, मां बोलीं ''परिवार बर्बाद हो गया, पता नहीं बेटी कैसे उबरेगी''

10/8/2020 2:47:16 PM

बॉलीवुड तड़का टीम. ड्रग्स के आरोप में जेल में कैद रिया चक्रवर्ती करीब एक महीने बाद चारदीवारी से बाहर निकल आई हैं। बीते बुधवार रिया को बॉम्बे हाईकोर्ट से जमानत मिल गई है। रिया की रिहाई से उनके परिवार और चाहने वाले काफी खुश दिखाई दे रहे हैं। इसी बीच रिया के वकील सतीश मानेशिंदे ने एक्ट्रेस की जमानत पर खुशी जाहिर की है। साथ ही उन्होने बताया कि जेल में रिया कैसे समय बिता रही थी।

PunjabKesari


रिया चक्रवर्ती की जमानत के बाद सतीश मानेशिंदे ने मीडिया को बताया कि रिया ने भायखला जेल में 28 दिन गुजारे थे। ऐसे में सतीश मानेशिंदे ने उन्हें फाइटर भी कहा। सतीश मानेशिंदे ने बताया कि मैं खुद जेल जाकर रिया की हालत देखता था, क्योंकि वह केवल परिस्थितियों का शिकार थीं। उसने जेल के हिसाब से खुद को ढाल लिया था, क्योंकि कोरोना महामारी के चलते उन्हें घर का खाना भी नसीब नहीं होता था। जेल में रिया अन्य कैदियों की तरह रहती थी। एक आर्मी परिवार से संबंध रखने की वजह से वह खराब परिस्थितियों से लड़ीं'।

PunjabKesari
वकील ने आगे कहा कि रिया हर उस शख्स का सामना करने को तैयार हैं जो उनपर आरोप लगाने और नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रहा है। क्योंकि रिया सुशांत के सबसे ज्यादा करीब थीं और उनके साथ लिव इन में भी रहीं, इसलिए सब उनके पीछे पड़े हैं।

PunjabKesari
रिया के वकील के अलावा एक्ट्रेस की मां संध्या चक्रवर्ती ने भी अपनी बेटी की जमानत पर खुशी जाहिर की है और कहा कि कैसे उनकी बेटी 'झूठी बदनामी' और पूरे देश ने जो 'लिंचिंग' की है, उस बुरे सपने से उबर पाएगी। मुझे उसको इस दुख से बाहर लाने के लिए थेरपी करवानी होगी। रिया की मां ने कहा कि राहत की बात है कि वह जेल से बाहर आ गई। लेकिन दुख की बात है कि ये सब अभी खत्म नहीं हुआ। मेरा बेटा अभी भी जेल में है और मैं ये सब सोच-सोचकर पागल हो रही हूं। जैसे ही दरवाजे की घंटी बजती है, हम डर जाते हैं। हमें नहीं पता होता कि कौन आ जाए। कई बार रिपोर्टर सीबीआई बनकर भी हमारी बिल्डिंग में घुस आते हैं। हमें दरवाजे के बाहर सीसीटीवी लगवाने पड़े हैं।

PunjabKesari


रिया की मां की दर्दभरी गाथा यहीं खत्म नहीं हुईं, उन्होंने आगे कहा कि मेरे बच्चे जेल में हैं तो मुझे बैड पर नींद नही। मैं ठीक से खा नहीं पाती। मन में अनहोनी का खयाल आता है तो आधी रात को उठ जाती हूं। मेरा परिवार बर्बाद हो गया है। कई बार तो मुझे आत्महत्या के खयाल आने लगे थे। मुझे थेरपी लेनी पड़ी और जब ऐसे विचार आते हैं तो सोचती हूं कि बच्चों के लिए मुझे जीना है। संध्या ने आगे कहा, मुझे अपनी बेटी पर गर्व है। उसने इतना कुछ सहा और आज घर आकर बोली, आप दुखी क्यों लग रही हैं, हमें स्ट्रॉन्ग होकर इससे लड़ना है।
बता दें रिया चक्रवर्ती सुशांत केस में गंभीर आरोपों के बाद ईडी, सीबीआई और एनसीबी की पूछताछ के बाद ड्रग्स मामले में बुरी तरह फंस गई थी और 8 सितंबर को उन्हें एनसीबी ने अपनी हिरासत में ले लिया था। वहीं बीते बुधवार बॉम्बे हाईकोर्ट ने रिया को जमानत दे दी है और वो अब अपने घर लौट आई हैं। 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

suman prajapati


Related News

Recommended News