राजू सपते सुसाइड केस:अब उठेगा पूरी साजिश से परदा, गृहमंत्री के निर्देश के बाद महाराष्ट्र पुलिस ने गिरफ्तार किया मुख्य आरोपी

7/16/2021 9:53:01 AM

मुंबई: आर्ट डायरेक्टर राजू साप्ते बीते दिनों ही सुसाइड किया था। आत्महत्या करने से पहले राजू ने एक वीडियो रिकॉर्ड किया था। इस वीडियो में उन्होंने आत्महत्या करने के पीछे की वजह बताई थी। राजू सपते की पत्नी की शिकायत पर इस मामले में वाकड पुलिस थाने में पांच लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज हुआ। वहीं अब  राजू सपते को आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में नामजद मुख्य अभियुक्त राकेश मौर्या को महाराष्ट्र पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया।

PunjabKesari

इस मामले में राकेश को मिलाकर पुलिस अब तक तीन लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। मुकदमे में फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉईज (एफडब्लूआईसीई) के दो बड़े नेताओं को भी नामजद किया गया है। मामले में आरोपित समेत सभी अभियुक्तों पर मकोका लगाए जाने की मांग को लेकर पिंपरी चिंचवजड के पुलिस आयुक्त के साथ मजदूर नेताओं की बीते दिन ही मुलाकात हुई थी।

PunjabKesari

कला निर्देशक राजू सपते की आत्महत्या का मामला महाराष्ट्र की राजनीति में तूल पकड़ चुका है। फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉईज (एफडब्लूआईसीई) के जो दो नेता इस मामले में नामजद है उनको लेकर भी फेडरेशन में उठापटक शुरू हो चुकी है। फेडरेशन लगातार इस कोशिश में हैं कि एफआईआर में नामजद नेताओं का संबंध फेडरेशन से न जुड़ने पाए।

PunjabKesari

फेडरेशन के पीआरओ शशिकांत सिंह कह रहे हैं कि फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉईज के कोषाध्यक्ष गंगेश्वर श्रीवास्तव और इसी संस्था के महासचिव अशोक दुबे का नाम नामजद अभियुक्तों के तौर पर लेते समय फेडरेशन का नाम न लिया जाए क्योंकि एफआईआर या राजू सपते के आत्महत्या पूर्व रिकॉर्ड किए गए वीडियो में फेडरेशन का नाम नहीं है।हालांकि ऑल इंडिया सिने वर्कर्स यूनियन की तरफ से महाराष्ट्र सरकार को सौंपे अपने पत्र में न सिर्फ इन दोनों नामजद अभियुक्तों के फेडरेशन के साथ संबंध को उजागर किया गया है बल्कि इस पत्र में प्रदेश के एक बड़े बीजेपी नेता का नाम भी हिंदी फिल्म व मीडिया इंडस्ट्री में सक्रिय इन तत्वों को संरक्षण देने के लिए लिया गया है।  

वहीं पुलिस के मुताबिक अब तक की जांच में ये सामने आया है कि मामले में नामजद अभियुक्त चंदन ठाकरे और राजू सपते भागीदारी में काम करते थे। चंदन ठाकरे ने राजू सपते के साथ कथित रूप से धोखाधड़ी की और कई योजनाओं में उन्हें नुकसान पहुंचाया। दूसरे अभियुक्तों ने राजू सपते से 10 लाख रुपए की रंगदारी की मांग की और उनके हर नए प्रोजेक्ट में से एक लाख रुपए की मांग रखी। इन अभियुक्तों ने राजू से 2.5 लाख रुपए ले भी लिए थे। एफआईआर के मुताबिक पुलिस ने नामजद अभियुक्तों के खिलाफ आपराधिक षडयंत्र रचने, आत्महत्या के लिए उकसाने, धोखाधड़ी करने, विश्वासघात करने, वसूली आदि गंभीर मामलों में कार्रवाई शुरू की है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Smita Sharma


Related News

Recommended News