PM मोदी ने देखी ''रॉकेट्री द नम्बी इफेक्ट'' की क्लिप, एयरोस्पेस इंजीनियर नम्बी संग प्रधानमंत्री से मिले एक्टर

4/6/2021 10:56:28 AM

मुंबई: एक्टर आर माधवन की महत्वकांक्षी फिल्म 'रॉकेट्री: द नम्बी इफेक्ट' का ट्रेलर हाल ही में रिलीज हुआ है। फिल्म में आर माधवन नंबी नारायणन का किरदार निभा रहे हैं। इस ट्रेलर को लोग काफी पसंद कर रहे हैं। हाल ही में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस फिल्म का ट्रेलर देखा।

PunjabKesari

मोदी ने फिल्म के एक विषय को बहुत ही आवश्यक बताया है और कहा है कि ये जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचनी ही चाहिए। ट्रेलर देखने के बाद पीएम मोदी ने आर.माधवन से मुलाकात भी की। इस मुलाकात की तस्वीरें एक्टर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर की हैं।

PunjabKesari

उन्होंने लिखा-  'कुछ हफ्तों पहले एयरोस्पेस इंजीनियर नम्बी नारायणन और मुझे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करने का मौका मिला। हमने #Rocketrythefilm पर बातचीत की। फ‍िल्म के क्ल‍िप्स और नम्बी जी के साथ किए गए गलत व्यवहार को देखकर पीएम के रिएक्शन ने हमारा दिल छू लिया। इस सम्मान के लिए धन्यवाद सर।'  

PunjabKesari

माधवन के इस ट्वीट पर प्रधानमंत्री ने जवाबी ट्वीट करते हुए लिखा- 'माधवन और नंबी नारायणन से मिलना सुखद रहा। ये फिल्म एक महत्वपूर्ण विषय की बात करती है जिसके बारे में ज्यादा लोगों को जानना चाहिए। हमारे वैज्ञानिकों और तकनीशियनों ने देश के लिए बड़े बलिदान किए हैं, इनकी झलकियां मैंने ‘रॉकेट्री’ की क्लिप्स में देखीं।'

बता दें कि 1 अप्रैल यानी अप्रैल फूल के दिन रिलीज किया गया था. एक यूजर द्वारा ट्रेलर रिलीज करने के लिए इस दिन को चुने जाने के सवाल पर माधवन ने सफाई दी थी। उन्होंने कहा- 'नम्बी सर ने एक बार कहा था, कितने बेवकूफ ऐसे होंगे जो मेरे जैसी देशभक्ति रखते होंगे। अब उनकी बात सुनने के बाद ही ये फैसला हुआ कि हमारी फिल्म के जरिए हर उस फूल को ट्रिब्यूट दिया जाएगा जिनकी देशभक्ति दूसरों से अलग थी, जिनका काम बेहतरीन रहा।'

PunjabKesari



कौन हैं नंबी नारायणन 

बता दें कि इसरो के वैज्ञानिक नंबी नारायणन दुनिया के इकलौते ऐसे अंतरिक्ष वैज्ञानिक हैं,जिनका बनाया अंतरिक्ष इंजन विकास आज तक एक भी लॉन्चिंग में फेल नहीं हुआ। इस इंजन का नाम उन्होंने अपने मार्गदर्शक व महान वैज्ञानिक विक्रम साराभाई के नाम पर रखा था।

View this post on Instagram

A post shared by R. Madhavan (@actormaddy)

देश के पूर्व राष्ट्रपति ए पी जे अब्दुल कलाम के सहकर्मी रहे नंबी नारायणन को जासूसी के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था और उन्हें पुलिस हिरासत में बहुत यातनाएं भी दी गईं थी। वहीं सीबीआई जांच के बाद रिहा होने पर नंबी नारायणन ने उन्हें गिरफ्तार करने वाले सभी लोगों पर मुकदमा किया था।  इस लड़ाई को सुप्रीम कोर्ट तक लाकर बेदाग बरी हुए।

 

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Smita Sharma


Related News

Recommended News