रेप केस: कोर्ट ने दूसरी बार खारिज की पर्ल वी पुरी की जमानत याचिका, 15 जून को होगी अगली सुनवाई

6/11/2021 6:12:23 PM

मुंबई. एक्टर पर्ल वी पुरी को रेप केस मामले में 4 जून को गिरफ्तार किया गया था। 5 जून को एक्टर को वसई कोर्ट में पेश किया गया था। कोर्ट ने जमानत खारिज कर दी थी और पर्ल को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था। उसी दिन पर्ल ने दोबारा याचिका दायर की थी। अब कोर्ट ने दूसरी बार पर्ल की जमानत याचिका खारिज कर दी है और अगली सुनवाई 15 जून को होगी।

PunjabKesari
रिपोर्ट्स के अनुसार, पर्ल की एक बार फिर जमानत याचिका रद्द कर दी गई है। जिसकी सुनवाई 15 जून को होगी। हाल ही में पीड़िता की मां ने एक स्टेटमेंट जारी किया गया था, जिसमें कहा गया था पर्ल वी पुरी निर्दोष हैं और उन्हें पीड़िता के पिता द्वारा झूठे आरोपों में फंसाया जा रहा है। दरअसल पीड़िता की मां अपनी बेटी की कस्टडी के लिए लंबे समय से लड़ाई लड़ रही है और ऐसे में अब पीड़िता के पिता ने ये सब साजिश के तौर पर किया है, ताकि वो पीड़िता की मां की छवि कोर्ट के आगे बुरी दिखा सकें और उनकी बेटी उनके पास ही रहे। पीड़िता की मां पर्ल का समर्थन कर रही हैं, क्योंकि वह निर्दोष है। उसे जबरदस्ती इन सब में फंसाया जा रहा है। यह सब कुछ पीड़िता के पिता के द्वारा किया गया है। हमें विश्वास है कि जल्दी ही सच सामने आएगा।

PunjabKesari
वहीं हाल ही पीड़िता के पिता ने इन आरोपों को खंडन किया और एक स्टेटमेंट जारी कर कहा पीड़िता ने खुद आरोपी की पहचान की है। पीड़िता के पिता ने वकील की ओर से जारी स्टेटमेंट में लिखा था- 'पीड़िता बच्ची ने आरोपी का खुलासा उसके ऑन-स्क्रीन नाम से किया जो 'रघबीर' है। चूंकि पीड़िता के पिता कोई टीवी शो नहीं देखते हैं इसलिए वह रघबीर को नहीं पहचान पाए और न ही उन्हें यह पता था  किसी एक्टर का ऑनस्क्रीन नाम रघबीर है। जांच जब आगे बढ़ी तो पता चला कि रघबीर एक ऑनस्क्रीन कैरेक्टर का नाम है और वो कैरेक्टर जिसने प्ले किया था उसका नाम पर्ल वी पुरी है। अगर शादी अच्छी है या बुरी तो इसका बच्चे के साथ जो हुआ उससे कोई लेना-देना नहीं है। बच्ची ने सच बोला, मेडिकल रिपोर्ट से पुष्टि हुई तो इस सब की चर्चा क्यों।' पीड़िता के पिता ने आगे कहा- वह हाथ जोड़कर विनती करते हैं कि कानून को अपना फैसला करने दो और उनकी पीड़िता बच्ची पर झूठा होने के आरोप न लगाएं'

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Parminder Kaur


Recommended News

static