जंगल के नियम तोड़ने के विवाद में रवीना के सपोर्ट में उतरा NGO, अपने बचाव में एक्ट्रेस बोलीं- ''हम टूरिज्म पथ पर थे''

12/1/2022 11:08:03 AM

बॉलीवुड तड़का टीम.  मध्य प्रदेश के सतपुड़ा टाइगर रिजर्व में फोटोग्राफी और वीडियो शूट करने को लेकर एक्ट्रेस रवीना टंडन विवादों के घेरे में हैं। जंगल सफारी के दौरान टाइगर के करीब से फोटो और वीडियो कैप्चर करने की वजह से सतपुड़ा टाइगर रिजर्व प्रबंधन ने बीते दिनों एक्ट्रेस के खिलाफ जांच के आदेश दिए थे। इसी बीच अब  वाइल्डलेंस इको फाउंडेशन नामक एनजीओ ने रवीना का बचाव किया है। वहीं एक्ट्रेस ने भी इस मामले में अपनी सफाई दी है।

 

गैर सरकारी संगठन वाइल्डलेंस इको फाउंडेशन एनजीओ ने रवीना टंडन के सपोर्ट में अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर हाल ही में एक ट्वीट किया। इस ट्वीट में समूह ने लिखा- वाहन का टाइगर के करीब होना वास्तव में खामियों से भरा है, जिप्सी एक अधिकृत गाइड और ड्राइवर की ओर से तय सड़कों पर चलती हैं। टाइगर आजाद रूप से चलता है और एक प्रशिक्षित ड्राइवर बाघ की आचानक से की गई प्रतिक्रिया पर अपना रिएक्शन नहीं दे सकता है, जो उसे उत्तेजित करता है। 
एनजीओ के इस ट्वीट को रवीना ने रीट्वीट किया है और आभार जताया है।

 

वहीं इस मामले में रवीना कहा कहना है कि वह वन विभाग की जीप में थी और जीप ट्रैक पर। इसमें बाघ के करीब जाने का सवाल ही नहीं उठता।

 


बीते बुधवार को रवीना ने अपनी सफाई देते हुए कहा, टाइगर्स जहां घूमते हैं, वहां के राजा होते हैं। हम उन्हें चुपचाप देखते हैं। कोई अचानक हरकत उन्हें चौंका भी सकती है। हमारे लिए सौभाग्य की बात है कि हमने अचानक कोई एक्शन नहीं लिया, बल्कि शांत बैठे और हमने बाघिन को आगे बढ़ते हुए देखा।”

क्यों हो रहा विवाद
दरअसल, रवीना टंडन 25 नवंबर को मध्य प्रदेश के सतपुड़ा के टाइगर रिजर्व में पहुंचीं, जहां एक्ट्रेस ने वाहन के जरिए टाइगर की करीब से फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी की, जिसे उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर किया। बस इस वीडियो को देखने के बाद प्रबंधन एक्शन में आ गया और रवीना के खिलाफ जांच के आदेश दे दिए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

suman prajapati


Related News

Recommended News