तालिबान की वापसी पर जश्न मनाने वाले भारतीय मुसलमानों पर फूटा नसीरुद्दीन शाह का फूटा गुस्सा-''मजहब में सुधार चाहिए या वहशीपन''

9/2/2021 8:41:06 AM

मुंबई: तालिबान की एक बार फिर से अफगानिस्तान पर हुकूमत हो गई है।अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से ही यह मुद्दा सबसे ज्यादा सुर्खियों में हैं। आम से लेकर खास हर कोई इस मुद्दे पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहा है। हाल ही में बाॅलीवुड एक्टर  नसीरुद्दीन शाह ने भी अफगानिस्तान पर हुए तालिबाना कब्जे पर बयान जारी किया है। नसीरुद्दीन शाह ने तालिबान का समर्थन करने वाले हिदुंस्तानी मुसलमानों पर तीखी टिप्पणी की है। उन्होंने एक वीडियो जारी कर कहा कि हिंदुस्तान का इस्लाम अलहदा है।

PunjabKesari

वीडियो में नसीरुद्दीन शाह ने कहा-' हालांकि अफगानिस्तान में तालिबान का दोबारा हुकूमत पा लेना दुनिया भर के लिए फिक्र की बात है इससे कम खतरनाक नहीं है कि हिंदुस्तानी मुसलमानों के कुछ तबकों का उन वहशियों की वापसी पर जश्न मनाना।

PunjabKesari

आज हर हिंदुस्तानी मुसलमान को अपने आप से ये सवाल पूछना चाहिए कि उसे अपने मजहब में सुधार और आधुनिकता चाहिए या वो पिछली सदियों के वहशीपन के साथ रहना चाहते हैं।'

View this post on Instagram

A post shared by The Maharashtra News (@the_maharashtranews)


इतना ही नहीं एक्टर ने आगे कहा- 'मैं भी हिंदुस्तानी मुसलमान हूं और जैसा कि मिर्जा गालिब कह गए हैं मेरा रिश्ता अल्लाह मियां से बेहद बेतकल्लुफ है, मुझे सियासी मजहब को कोई जरूरत नहीं है। ऐसे में हिंदुस्तानी इस्लाम हमेशा दुनिया भर के इस्लाम से अलग रहा है और खुदा वो वक्त न लाए कि वो इतना बदल जाए कि हम उसे पहचान भी न सकें।'

PunjabKesari

नसीरुद्दीन शाह का ये वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो पर फैंस तरह तरह से कमेंट कर रहे हैं. जहां कुछ यूजर्स नसीर की तारीफ करते दिख रहे हैं तो वहीं, कुछ ट्रोलिंग भी करते नजर आ रहे हैं।

PunjabKesari

बता दें कि 15 अगस्त को तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया। इसके बाद भारत के कुछ मुस्लिम संगठनों ने अफगानिस्तान पर तलिबान के कब्जे को सही ठहराया। उन्होंने इस पर खुशी जाहिर की।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Smita Sharma


Related News

Recommended News