डिलीवरी के आखिरी पलों का जिक्र: तैमूर के समय काफी चिंतित थे सैफ, बेटे के जन्म के बाद 14 दिनों तक एक्

8/13/2021 1:09:56 PM

मुंबई. एक्ट्रेस करीना कपूर इन दिनों अपने दूसरे बच्चे के नाम जहांगीर को लेकर काफी चर्चा में बनी हुई है। बेटे का नाम जहांगीर रखने के कारण एक्ट्रेस को खूब ट्रोल किया जा रहा है। इससे पहले एक्ट्रेस को उनकी किताब के नाम 'करीना कपूर खान्स प्रेग्नेंसी बाइबल' के लिए भी खूब ट्रोल किया गया था। एक्ट्रेस ने अपनी किताब में दोनों बच्चों के जन्म के समय हुई परेशानी का विस्तार से जिक्र किया है। करीना ने कहा कि तैमूर के जन्म के समय मैं उसे स्तनपान नहीं करा पा रही थीं, वही जहांगीर के जन्म के समय आसानी से स्तनपान करा रही थी, जो कि मेरे लिए एक उपलब्धि की तरह था। तैमूर जन्म के समय बड़ा था और उसकी गर्भनाल भी बड़ी थी। तैमूर के जन्म के समय सैफ अली खान काफी परेशान हो गए थे और डॉक्टर मुझे तैमूर के जन्म के बारे में बता रहे थे।

PunjabKesari
करीना ने अपनी किताब में लिखा- तैमूर की डिलीवरी से पहले सैफ बहुत चिंतित थे। करीना भी चाहती थीं कि तैमूर की डिलीवरी सामान्य तरह से हो, लेकिन ऐसी परिस्थिति थी कि डॉक्टरों ने सिजेरियन जन्म का सुझाव दिया। तैमूर की डिलीवरी से पहले मेरा आखिरी स्कैन था और बच्चे के जन्म में एक हफ्ता बचा था। पता चला कि तैमूर बड़ा बच्चा है और उसकी गर्भनाल गले में है। ऐसे समय में मैं अपने बच्चे को लेकर बहुत डरी हुई थी और सामान्य प्रसव चाहती थी। 

PunjabKesari
करीना ने आगे लिखा- मेरे डॉक्टर ने मुझे बताया और समझाया कि प्रसव के दौरान बच्चे को गर्भ से बाहर निकालने के लिए पुश करना होगा, क्योंकि उसकी गर्भनाल अनिश्चित थी। तब सैफ, मैंने और डॉक्टर फिरोज ने संयुक्त निर्णय लिया। इस तरह 48 घंटे के बाद सिजेरियन ऑपरेशन के जरिए तैमूर मेरी गोद में था। मुझे याद है कि मेरे एनेस्थेसियोलॉजिस्ट के सुकून भरे शब्दों को सुनकर नर्स द्वारा मुझे शांत किया जा रहा था। उसके बाद सब कुछ धुंधला गया था। 

PunjabKesari
इसके अलावा ने करीना ने लिखा- तैमूर के जन्म के पहले 14 दिन तक मैंने दूध नहीं पिया था, जिसके कारण मैं उसे स्तनपान नहीं करा पा रही थी। मेरी मां और नर्स तैमूर के पैदाइश के समय मेरे पास मंडरा रहे होते थे और सोच रहे होते थे कि मैं तैमूर को स्तनपान क्यों नहीं करा पा रही। बता दें करीना का दूसरा बेटा इस साल फरवरी में पैदा हुआ है जबकि तैमूर चार साल का हो गया है।

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Parminder Kaur


Related News

Recommended News