विरोध और FIR के बाद भी जारी है कंगना का टशन, जिम के बाहर स्वैग भरे अंदाज में दिए पोज

11/24/2021 10:49:17 AM

मुंबई: बाॅलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत अपने तीखे बयानों और तेवरों की वजह सेअक्सर विवादों में घिरी रहती हैं। कंगना किसी से भी पंगा लेने से नहीं कतराती। हर मुद्दे पर खुल के बोलने वाली कंगना के बोल अक्सर लोगों को तीर की तरह चुभते हैं। यही वजह है कि कंगना एक बार फिर विवादों में घिरी। पहले 1947 में मिली भारत की आजादी को भीख बताया फिर इंदिरा गांधी और खालिस्तान पर बयान देना कंगना को भारी पड़ गया है।

PunjabKesari

कंगना के खिलाफ मुंबई में केस दर्ज किया गया है। उनके घर के बाहर भी सिख समुदाय द्वारा काफी प्रदर्शन किया जा रहा है लेकिन लगता है कि कंगना को इन सबसे कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। ऐसा हम नहीं कह रहे बल्कि उनकी लेटेस्ट तस्वीरें इस तथ्य को बयां कर रही है जिसमें उनका टशन भरा अंदाज देखने को मिल रहा है।

PunjabKesari

बुधवार सुबह जिम के बाहर स्पाॅट हुईं कंगना के चेहरे पर विवादों और FIR को लेकर एक भी शिकंज नहीं दिखाई दे रही हैं। वह बेहद ही स्वैग भरे अंदाज से मीडिया कैमरे के सामने पोज दे रही हैं। लुक की बात करें तो उन्होंने व्हाइट आउटफिट कैरी किया है। इसके साथ कर्ली हेयर्स और शेड्स उनके स्वैग भरे लुक को चार-चांद लगा रहे हैं। 

PunjabKesari

गौरतलब है कि कंगना ने कुछ दिन पहले ही एक पोस्ट में लिखा था-'खालिस्तानी आतंकवादी आज भले ही सरकार का हाथ मरोड़ रही हो, लेकिन उस महिला (इंदिरा गांधी) को नहीं भूलना चाहिए, जिसने अपनी जूती के नीचे इन्हें कुचल दिया था, लेकिन अपनी जान की कीमत पर उन्हें मच्छरों की तरह कुचल दिया, मगर देश के टुकड़े नहीं होने दिए, उनकी मृत्यु के दशक के बाद भी, आज भी उसके नाम से कांपते हैं ये, इनको वैसा ही गुरु चाहिए।'

PunjabKesari

सिखों को लेकर दिए बयान के बाद दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (DSGMC) ने कंगना रनौत के खिलाफ देशद्रोह और अपमानजनक टिप्पणी करने के लिए पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है।

PunjabKesari

दिल्ली सिख संस्था ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि एक्ट्रेस ने जानबूझकर अपनी पोस्ट से किसानों के विरोध को खालिस्तानी आंदोलनों के रूप में बताया है। इसके साथ ही सिख समुदाय को खालिस्तानी आतंकवादी करार दिया गया है।

PunjabKesari

वैसे तो कंगना किसानों को लेकर पहले भी विवादित बयान दे चुकीं है। लेकिन जब किसानों को खालिस्तानी आतंकवादी कहा गया तो पूरे देश में उनका विरोध तेजी से हो रहा है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Smita Sharma


Related News

Recommended News