देशद्रोहियों की गुड बुक्स में आने के लिए माताओं, बहनों और किसानों को गुमराह कर रहे हैं प्रियंका-दिलजीत:कंगना रनौत

12/11/2020 11:05:41 AM

मुंबई: एक्ट्रेस कंगना रनौत इन दिनों किसान आंदोलन को लेकर कई ट्वीट कर रही हैं। कंगना का स्टैंड लगातार ही सराकर की तरफ नरम और विरोध कर रहे किसानों को लेकर सख्त हैं। इसी बीच एक्ट्रेस ने एक बार फिर से दिलजीत दोसांझ को ट्विटर पर घेरने की कोशिश की है।  इससे पहले किसान प्रोटेस्ट में एक फेक ट्वीट को लेकर कंगना और दिलजीत के बीच खूब घमासान हो चुका है।

PunjabKesari

इतना ही नहीं इस बार उनके निशाने पर प्रियंका चोपड़ा भी हैं। ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ट्वीट से उन्होंने दिलजीत और प्रियंका को किसान बिल समझाने की भी कोशिश की।

PunjabKesari

 

कंगना ने  ट्वीट कर लिखा-'प्रिय दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा अगर सच में किसानों की चिंता है, अगर सच में अपनी माताओं का आदर सम्मान करते हो तो सुन तो लो आखिर फाॅर्मर्ज बिल है क्या! या सिर्फ अपनी माताओं, बहनों और किसानों का इस्तेमाल करके देशद्रोहियों कि गुड बुक्स में आना चाहते हो? वाह रे दुनिया वाह।'

PunjabKesari

इसके अलावा कंगना ने एक यूजर के ट्वीट को भी रीट्वीट किया है। इस शेयर की ट्वीट में यूजर ने  इस ट्वीट में यूजर ने दिलजीत दोसांझ और एमी विर्क को टैग करते हुए लिखा है कि कम्युनिस्ट्स हमारी माताओं और बहनों का राजनीतिक हितों के लिए शोषण कर रहे हैं। ये लोग जो पोस्टर्स लिए हैं इनमें से कई लोग आंतकवाद के आरोप में गिरफ्तार हुए हैं। ये किसान बिल से जुड़ा नहीं है। क्या इनके खिलाफ आप बोलेंगे? नहीं, क्योंकि आप भी इस प्रॉब्लम का हिस्सा हैं। इस पर कंगना ने लिखा- 'प्रॉब्लम सिर्फ ये लोग नहीं हर वो इंसान है जो इनका सपोर्ट और किसान बिल का विरोध करता है। इन सबको पता है कि यह बिल किसानों के लिए कितना जरूरी है फिर भी ये लोग अपने फायदे के लिए मासूम किसानों को हिंसा, नफरत और भारत बंद के लिए उकसाते हैं।'

PunjabKesari


इसके अलावा कंगना ने एक और ट्वीट में लिखा-'किसानों को प्रोटेस्ट के लिए उकसाने पर लेफ्ट मीडिया दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा जैसे लोगों की वाहवाही करता रहेगा, प्रो इस्लामिस्ट और भारत विरोधी फिल्म इंडस्ट्री और ब्रैंड्स उनके लिए ऑफर्स की भरमार लगाए रहेंगे। समस्या ये है कि पूरा सिस्टम इस तरह से बना है कि भारत विरोधी फलें-फूलें और इस करप्ट सिस्टम के खिलाफ बहुत कम लोग हैं। मुझे भरोसा है कि अच्छाई और बुराई के बीच हर लड़ाई में जादू होगा, बुराई काफी सशक्त हो गई है। जय श्री राम।'

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Smita Sharma


Related News

Recommended News