निधन से पहले इरफान खान ने की थी कोरोना पीड़ितों की आर्थिक मदद, नहीं लगने दी दुनिया खबर

5/31/2020 9:31:45 AM

मुंबई: बाॅलीवुड एक्टर इरफान खान को हमें अलविदा कहे 1 महीना हो गया है। इरफान चाहेइस दुनिया में नहीं हैं लेकिन उनकी ऐक्टिंग, यादें और अच्छे काम हमेशा हमारे बीच रहेंगे। इरफान अपने निधन से कुछ वक्त पहले ही यूके से इलाज करवाकर इंडिया लौटे थे हालांकि इरफान वापस आकर अपने देश में ज्यादा वक्त नहीं बिता सके। न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर से ग्रसित इरफान ने 29 अप्रैल 2020 को अंतिम सांस ली थी।

PunjabKesari

53 साल के इरफान को अंतिम विदाई देने के लिए ज्यादा लोग नहीं पहुंचे थे। दरअसल,कोरोना वायरस और लॉकडाउन के कारण सिर्फ परिवार की मौजूदगी में उनका अंतिम संस्कार किया गया। वहीं अब इरफान के निधन के बाद उनसे जुड़ी एक खबर सामने आई है।

PunjabKesari

बता दें कि कोरोना महामारी के बीच कई स्टार्स लोगों की मदद कर रहे हैं। इसी बीच इरफान के करीबी दोस्त ने खुलासा किया है कि इस दुनिया से जाने से पहले वह कोरोना पीड़ितों के लिए दान कर गए थे। हालांकि वह नहीं चाहते थे कि इसका किसी को भी पता चले। उन्होंने अपनी तरफ से कुछ आर्थिक मदद करते हुए पैसे दान किए थे।

PunjabKesari

इरफान के जयपुर में रहने वाले करीबी दोस्त जियाउल्लाह ने बताया कोरोना वायरस की स्थिति में हम लोगों की मदद के लिए फंड इकट्ठा कर रहे थे। जब हमने उनके भाई से बात की तो इरफान भी मदद करने के लिए तैयार हो गए। यहां तक कि इरफान ने गरीब लोगों के लिए धन की मदद करते वक्त एकमात्र शर्त ये रखी थी कि किसी को पता ना चले उन्होंने मदद की है। एक परिवार के रूप में इरफान का मानना है कि दाहिने हाथ को पता नहीं होना चाहिए कि बाएं हाथ ने क्या दिया है।

 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

It was his eyes, everyone fell in love with, the feeling of being lost in them. His eyes carried a certain kind of silence that begged to be understood. His eyes would capture you in the trap and believe me you'll love to be there. His smile and soothness in the scene looked like he already knew that he's going to start a new journey, the journey with no pain and regrets, and lots of love. Journey to a new world where he'll smile the same way knowing how much he has earned throughout. All the beautiful memories are his luggage. @irrfan #Irrfan #IrrfanKhan

A post shared by Irrfan (@irrfanclub) on May 29, 2020 at 11:38pm PDT

 

उनके लिए, लोगों को राहत पहुंचाना अधिक महत्वपूर्ण था। अब वो हमारे बीच नहीं है तो यह बात शेयर कर रहा हूं। यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम सभी को बताएं कि इस तरह के भी लोग हैं। जियाउल्ला ने बताया कि इरफान ने कभी सिलेब्रिटी की तरह व्यवहार नहीं किया। वह पड़ोसियों से मिलते और बहुत अच्छे से बात करते थे। उन्होंने कभी महसूस नहीं होने दिया कि वह बड़े स्टार हैं। जियाउल्ला मे आगे बताया कि इरफान अपनी मां से काफी अटैच्ड थे। उनकी मौत के 4 दिन के अंदर इरफान का निधन हो गया था। काम की बात करें तो इरफान को आखिरी बार फिल्म अंग्रेजी मीडियम में देखा गया था। इस फिल्म में उनके साथ करीना कपूर खान और राधिका मदान थीं। 


Smita Sharma


Related News