विदेश में काम कर रहे इंडियन डॉक्टर्स की कहानी पर जल्द फिल्म लेकर आएंगी भारतीय मूल की हॉलीवुड फिल्म निर्माता स्वेता राय

7/7/2020 6:39:02 PM

बॉलीवुड तड़का टीम. जैसे ही स्थिति सामान्य होगी वैसे ही फिल्मों की शूटिंग दोबारा से शुरू हो जाएंगी। इस दौरान लॉस एंजिलस के डाउनटाउन में रहने वाली भारतीय मूल की हॉलीवुड फिल्म निर्माता स्वेता राय ने लॉकडाउन में एक फीचर-डॉक्यूमेंट्री फिल्म 'ए पंडमिक: अवे फ्रॉम द मदरलैंड' का निर्माण किया है। स्वेता कहती हैं कि ये फिल्म जगत के नए युग की शुरुवात है, इसे 'न्यू नॉर्मल' भी कह सकते हैं। इस लॉकडाउन से हर किसी को मुश्किल रही है, दुनिया में ठहराव आ गया है। घर पर अकेले होने के कारण मैंने इस समय का सबसे अच्छा उपयोग करने का फैसला किया। जैसे-जैसे भारत और दुनिया भर में COVID-19 के मामले बढ़ रहे हैं, हेल्थकेयर कर्मचारियों को अलग-अलग समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इसमें भारतीय डॉक्टरों का एक वर्ग है जो अपनी मातृभूमि यानि भारत से दूर विदेश में काम कर रहे हैं। स्वेता कहती हैं कि ये कहानी फ्रंट-लाइन योद्धा जो संकट से निपट रहे है, उनकी है।

PunjabKesari

कहानी खासकर अमरीका में कार्य कर रहे 5 भारतीय डॉक्टरों की है। जो अपने परिवारों से दूर हैं और इस महामारी के दौर में लोगों की मदद कर रहे हैं। यही फ्रंट-लाइन कार्यकर्ता असली नायक हैं। उनकी कहानी दुनिया को बताने की जरूरत है। जब कोई परिवार से दूर रहता है, तो उनकी चुनौतियां अलग होती हैं, उनकी भावनाएं अलग होती हैं। इस फिल्म के निर्माण के दौरान इन लोगों से मैंने जो जाना है वह यह है कि इन डॉक्टर्स के परिजन इनको हर दिन याद करते हैं और यह भी कहते हैं कि इससे फर्क नहीं पड़ता वो किस देश में हैं, वो मानव जाती की सेवा कर रहे हैं। ये उनके लिए गर्व की बात है।

PunjabKesari


कहानी में डॉ. अंकित भरत होंगे जिन्होंने अभी-अभी COVID-19 मरीज पर यूएसए की पहली डबल लंग ट्रांसप्लांट सर्जरी की है। उन्हें इसके लिए दुनिया भर में जाना जाता है। साथ ही रोबोटिक फेफड़े की सर्जरी के साथ उनकी पिछली तमाम उपलब्धियां है। जिस पर टाइम्स स्क्वायर न्यूयॉर्क में उन्हें सम्मानित किया गया है। इस साल मार्च में महामारी शुरू होने के बाद से मैं डॉ. भरत की यात्रा को देख रही हूं। डबल लंग ट्रांसप्लांट सर्जरी जो उन्होंने एक COVID-19 रोगी पर की है। वह चिकित्सा विज्ञान में एक बड़ी सफलता है। जब तक वैक्सीन नहीं आ जाती, तब तक इस वायरस से लड़ने के लिए हमारे पास और भी तकनीक आ गई हैं। मैंने भारत के मेरठ शहर में डॉ. भरत के माता-पिता से बात की और उनके बेटे के उनके दूर रहने के अनुभवों के बारे में जाना।
डॉ. भरत के अलावा इस कहानी में 4 अन्य भारतीय डॉक्टर और उनके परिवार शामिल हैं। डॉ. पूजा मल्होत्रा (नेफ्रोलॉजिस्ट) जिन्होंने कॉविड को हराया और काम पर वापस आ गई। डॉ. उमा मधुसूदना (आंतरिक चिकित्सा), डॉ. श्रीधर कुलकर्णी (आंतरिक चिकित्सा) और डॉ. शांतनु सिंह (क्रिटिकल केयर एंड पल्मोनरी डिजीज) जो COVID-19 रोगियों का इलाज कर रहे हैं। ये सभी डॉक्टर उस अनदेखे दुश्मन से लड़ते हुए अग्रिम पंक्ति में हैं। COVID-19 के प्रभाव से बचने के लिए हमें कुछ डॉक्टरों के पास कैमरा क्रू भेजने की अनुमति नहीं थी। मेरे सिनेमैटोग्राफर, डेविड बोउज़ा, जिन्होंने अब तक 60 हॉलीवुड डाक्यूमेंट्री शूट की हैं, उनके साथ मिलकर एक मोबाइल ऐप पर इस फिल्म का डायरेक्शन करने का फैसला किया। डॉ. कुलकर्णी और डॉ. सिंह ने ऐप का समर्थन किया और मैंने स्काइप, ज़ूम और व्हाट्सएप वीडियो कॉल के माध्यम से उन्हें निर्देशित करते हुए उनका इंटरव्यू रिकॉर्ड किया। लॉकडाउन के दौरान जहां मैंने एक तरफ US के अलग-अलग शहरों में शूटिंग की, वहीं दूसरी तरफ भारत के छोटे से छोटे शहरों में भी शूटिंग की।
इस फिल्म की निर्माता, निर्देशक और लेखिका स्वेता राय का जन्म और पालन-पोषण भारत के मध्य प्रदेश के एक छोटे से शहर में हुआ है। स्वेता ने 3 मास्टर डिग्री प्राप्त की हैं जिनमें लॉस एंजिल्स का अमेरिकन फिल्म इंस्टीट्यूट (एएफआई) भी शामिल है। स्वेता द्वारा निर्मित फीचर फिल्में अमेजन प्राइम वीडियो, आईट्यून्स, हुलु, शोटाइम और अन्य प्रमुख नेटवर्क और स्ट्रीमिंग प्लेटफार्मों पर उपलब्ध हैं।
स्वेता रॉय ने कहा कि लॉस एंजिल्स केएएमसी थिएटर में मेरे द्वारा निर्मित ‘सर्वाइवल द वाइल्डि’ का प्रीमियर देखने के दौरान मुझे कुछ इंडो-हॉलीवुड कहानियों को विश्व पटल पर लाने का विचार आया था। तभी मेरे दिमाग में इंडो होली फिल्म्स का जन्म हुआ। मैं काफी स्तरों पर COVID-19 संबंधी इस डॉक्यूमेंटरी से अपने आप को जुड़ा हुआ महसूस करती हूं। अपने परिवार से दूर होने के कारण मैं इस कहानी की भावनाओं को समझती हूं। फिल्म की एडिटिंग चल रही है और हम इस डॉक्यूमेंट्री को जुलाई में रिलीज कर सकते हैं।
स्वेता इंडो होली फिल्मस की संस्थापक और सीईओ हैं। जैसा कि नाम से पता चलता है, यह कंपनी हॉलीवुड के साथ बॉलीवुड / एशियाई सिनेमा को जोड़ेगी। स्वेता की फिल्मों और टेलीविजन विकास, अधिग्रहण, उत्पादन और वितरण में एक अच्छी जानकारी हैं। उन्होंने जेम्स कान (गॉडफादर), जॉन वोइट (मिशन इंपॉसिबल), बो डेरेक (टार्जन, 10) जैसे हॉलीवुड के फिल्म कलाकारों के साथ फिल्में बनाई हैं। वह अपनी अगली डॉक्यूमेंट्री 'स्किन' की शूटिंग की तैयारी कर चुकी हैं, जो कि एशिया में महिलाओं के चेहरे की त्वचा के रंग पर हो रहे
पक्षपात पर आधारित है।


Edited By

suman prajapati


Related News