टाइगर और ऋतिक के इर्द-गिर्द घूमती है जबरदस्त एक्शन से भरपूर ''वॉर''

10/2/2019 12:28:02 PM

बॉलीवुड तड़का डेस्क। टाइगर श्रॉफ और ऋतिक रोशन की मोस्ट अवेटेड फिल्म 'वॉर' आज रिलीज हो रही है। जिसके बॉक्स ऑफिस पर मेगाहिट बनने की उम्मीद है। इसकी एक वजह यह भी है कि इस फिल्म में दो ऐसे स्टार्स हैं, जिनकी फैन फॉलोइंग लाखों और करोड़ों की संख्या में है। 'वॉर' से टाइगर श्रॉफ और ऋतिक रोशन पहली बार बड़े परदे पर साथ दिखेंगे। इस फिल्म से दर्शकों के साथ साथ यशराज फिल्म्स को भी काफी उम्मीदें हैं। यशराज बैनर की पिछली फिल्म 'ठग्स ऑफ़ हिंदुस्तान' बुरी तरह फ्लॉप रही थी। 

स्टोरी प्लॉट-
कबीर (ऋतिक रोशन) और खालिद (टाइगर श्रॉफ) एक भारतीय खुफिया एजेंसी के मेंटर हैं। फिल्म कबीर के बागी होने के साथ शुरू होती है। जैसा ट्रेलर में भी दिखता है कि वह एजेंसी का स्टारबॉय है, लेकिन एजेंसी के महत्वपूर्ण सदस्यों और भारतीय सेना को निशाना बना रहा है। कबीर को हमेशा गुरु के रूप में देखने वाले खालिद को उसे खोजने और गिरफ्तार करने का काम सौंपा गया है। फिल्म के पहले भाग का एक बड़ा हिस्सा फ्लैशबैक में जाता है, जो यह बताता है कि कबीर और खालिद पहली बार कैसे मिले और उनका रिश्ता कैसे बना। वे एक साथ लड़ते हैं, अलग होते हैं, आतंकवादियों से भी एक साथ लड़ते हैं और वो एक साथ डांस भी करते हैं। 

PunjabKesari, War Review

टाइगर और ऋतिक दोनों ही वॉर में दर्शकों को शिकायत करने की कोई वजह नहीं देते हैं। फिल्म में थोड़ी सी कॉमेडी भी है, लेकिन उसका होना और ना होना बराबर ही है। फ्लैशबैक में कई जगह एक्शन देखने को मिलता है। ऋतिक रोशन अपनी स्वैग और उम्र के मालिक हैं। वह अपने 'साल्ट एंड पेपर' लुक और झुर्रियों को कहीं भी छुपाते नहीं दिखे, जो स्वागत योग्य है। दूसरी ओर, टाइगर एक बेहतरीन कलाकार है और उनको नापसंद करने का कोई बहाना आपको इस फिल्म में भी नहीं मिलेगा। 

PunjabKesari, War Review

फिल्म को देखकर ऐसा लगता है कि निर्देशक सिद्धार्थ आनंद ने फिल्म की सारी एनर्जी ऋतिक, टाइगर और एक्शन सीन्स में डाल दी और इसका सबसे बड़ा प्रमाण यह है कि वाणी कपूर फिल्म के दूसरे भाग में सामने आती हैं।

PunjabKesari, War Review

वाणी ने फिल्म में नैना नाम की एक डांसर की भूमिका निभाई है, जो एक मिशन पर होने के दौरान कबीर से मिलती है। चौंकने वाली बात यह है कि वह जल्दी से (लगभग 10-15 मिनट में) फिल्म का इमोशनल सेंटर भी बन जाती है। फिल्म में उनकी बहुत छोटी भूमिका है, लेकिन अगर उनको स्क्रीन पर ज्यादा टाइम मिलता तो बहुत कुछ कर सकती थी। 

PunjabKesari, War Review

फिल्म के सेकंड हाफ में जबरदस्ती के ट्विस्ट डाले गए हैं। यदि आप फिल्म के प्लाट को ध्यान से समझेंगे तो आप मीलों दूर से भी आने वाले ट्विस्ट का अनुमान लगा सकते हैं। ऋतिक का नेचुरल चार्म और टाइगर की कड़ी मेहनत ही फिल्म को लास्ट तक खींच के लाती है। कुछ मिनटों के लिए ही सही आप वॉर से जुड़ा हुआ महसूस करेंगे, क्योंकि यह एक अच्छी दिखने वाली फिल्म है। सिनेमैटोग्राफी, बैकग्राउंड स्कोर और शानदार प्रोडक्शन डिजाइन सभी आपको यह अहसास दिलाते हैं कि आप इस तमाशे का हिस्सा हैं।

PunjabKesari, War Review

लेकिन ज्यादातर पार्ट में 'वॉर' केवल एक्शन है, और कुछ नहीं। 

PunjabKesari, War Review

कुल मिलाकर टाइगर और रितिक ही फिल्म से बांधे रखते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि वॉर मिशन फिल्म नहीं है, लेकिन यह फिल्म आपको एक्शन, स्वैग और ब्रोमांस दिखाने का वादा करती है। 


Edited By

Akash sikarwar


Related News