''लोगों के मसीहा'' सोनू सूद की बढ़ी मुश्किलें, कोविड दवा खरीद को लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट ने दिए जांच के आदेश

6/17/2021 9:26:40 AM

बॉलीवुड तड़का टीम. एक्टर सोनू सूद पिछले साल कोरोना और लॉकडाउन की शुरूआत से ही लगातार लोगों की मदद कर रहे हैं। अब तक एक्टर ने कई कोरोना मरीजों के इलाज के लिए दवाएं और अस्पताल में जरूरी सामान उपलब्ध करवाकर कई जान बचाई है, लेकिन इसी बीच एक्टर मुसीबत में फंसते दिखाई दे रहे हैं। हाल ही में मुंबई उच्च न्यायालय ने महाराष्ट्र सरकार को कोविड दवा खरीद में कांग्रेस विधायक और सोनू सूद की भूमिका की जांच करने का आदेश दिया है।


मुंबई उच्च न्यायालय ने महाराष्ट्र सरकार को आदेश दिया है कि वह एक्टर सोनू सूद और विधायक जीशान सिद्दीकी की कड़ी जांच कर पता लगाएं कि कोरोना की दवाइयां उनके पास कैसे पहुंची है। उन्होंने कहा कि सेलिब्रिटी अपने आपको मसीहा बता रहे थे, जबकि उन्होंने इस बात की भी पुष्टि नहीं की कि क्या दवाइयां नकली है या वह अवैध तरीके से उन तक पहुंचाई जा रही है।

 

दरअसल, सरकारी वकील आशुतोष कुंभकोनि ने उच्च न्यायालय को बताया कि मजगांव मेट्रोपॉलिटन कोर्ट ने बीडीआर फाउंडेशन नामक ट्रस्ट के खिलाफ रेमडेसीविर दवाई विधायक जीशान सिद्दीकी को उपलब्ध करवा कर देने के मामले में क्रिमिनल केस दर्ज की है। जबकि ट्रस्ट के पास ऐसा करने का लाइसेंस भी नहीं था।

 


कुंभकोणि ने कहा कि जीशान सिद्दीकी केवल उन नागरिकों तक दवाएं पहुंचा रहे थे जो उनसे संपर्क कर रहे थे, इसलिए उनके खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि सोनू सूद ने गोरेगांव स्थित लाइफलाइन केयर अस्पताल में स्थित दवा की अनेक दुकानों से दवाएं ली थीं। फार्मा कंपनी सिप्ला ने इन फार्मेसियों को रेमडेसिविर की आपूर्ति की थी और इस मामले में अभी जांच चल रही है। इसके बाद अदालत की पीठ ने महाराष्ट्र सरकार को जांच का निर्देश दिया। ऐसे में सोनू सूद की मुश्किलें उच्च न्यायालय के कड़े रुख के चलते बढ़ सकती हैl

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

suman prajapati


Related News

Recommended News