कोरोना काल में ऑक्सीजन और दवाइयों की कालाबाजारी करने वालों पर गुरमीत चौधरी ने निकाला गुस्सा, बोले- ''ऐसे लोगों को जीने कोई हक नहीं''

5/18/2021 3:40:36 PM

मुंबई. एक्टर सोनू सूद की तरह गुरमीत चौधरी भी कोरोना मरीजों की मदद में जुटे हुए हैं। हाल ही में गुरमीत ने नागपुर में आस्था नाम का कोविड अस्पताल खोला है। लोगों के लिए बेड, ऑक्सीजन, प्लाज्मा और दवाईयां हर जरूरत की चीज उपलब्ध करवा रहे हैं। गुरमीत को लोगों की मदद करने में मुश्किल आ रही है। इसका कारण है कालाबाजारी। ऑक्सीजन और दवाइयों की कालाबाजारी हो रही है। गुरमीत ने कालाबाजारी को लेकर अपना गुस्सा निकाला है। 
PunjabKesari
गुरमीत ने मीडिया से बात करते हुए कहा- 'मैं खुद इस मुश्किल का सामना कर रहा हूं। लोग मुझे पर्सनली फोन करके कहते हैं, 'मेरे पापा को बचा लो, वो मर जाएंगे।' लेकिन ऐसे लोग भी हैं जो ऐसी बातों को खुद सुनते हैं फिर भी दवाइयों की कालाबाजारी कर रहे हैं। कोरोना से बचाव के लिए जो जरूरी चीजें हैं उन्हें स्टॉक करके रख रहे हैं। ऐसे लोगों को जीने का कोई हक नहीं है। वो दवाइयों और दवाइयों जैसी जरूरी चीजों की कालाबाजारी कर रहे हैं। उन चीजों को लोगों तक पहुंचने से रोक रहे हैं।'

PunjabKesari
गुरमीत ने आगे कहा- 'स्ट्रिक्ट एक्शन लेना चाहिए। अब टाइम आ गया है एक मूवमेंट स्टार्ट करने का। जहां कहीं भी दवाइयों और ऑक्सीजन जैसी चीजों की कालाबाजारी हो रही हो, लोग वहां की तस्वीरें क्लिक करें और सबको बताएं कि कहां कालाबाजारी हो रही है। यह सबसे बड़ी परेशानी है जिसका इस समय हर कोई सामना कर रहा है। हम चाह कर भी कुछ नहीं कर पा रहे हैं क्योंकि सामान मिल ही नहीं रहा। हमें इसके लिए ग्राउंड लेवल पर काम करना होगा।'

PunjabKesari
बता दें गुरमीत और उनकी पत्नी देबीना बनर्जी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। कोरोना से ठीक होने के बाद कपल ने प्लाज्मा भी डोनेट किया था। गुरमीत ने कहा था कि वह पटना और लखनऊ के अलग-अलग शहरों में अस्पताल खुलवाएंगे

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Parminder Kaur


Recommended News

static