6 साल से फरार फिल्म प्रोड्यूसर मथुरा से गिरफ्तार,लोन दिलाने के के बहाने बिजनेसमैन से ठगे थे 32 लाख रुपए

8/3/2021 10:44:31 AM

मुंबई: दिल्ली पुलिस ने हाल ही में यूपी के मथुरा से फिल्म प्रोड्यूसर अजय यादव को गिरफ्तार किया है। अजय यादव पर  एक कारोबारी के साथ लाखों की ठगी करने के आरोप लगा है। अजय यादव साल 2015 से फरार चल रहा था और एब 2021 में वह पुलिस के हत्थे चढ़ा है।  आरोपित के खिलाफ कुल 11 ठगी के मामले दर्ज हैं। मौजूदा मामले की बात करें तो अजय यादव ने दिल्ली के एक बिजनेसमैन को 65 करोड़ रुपए का कर्ज दिलाने के बहाने कथित तौर पर 32 लाख रुपए की ठगी की। 

PunjabKesari

इस बारे में डीसीपी (साउथ) अतुल कुमार ठाकुर ने कहा-'अजय यादव को पहले मुंबई क्राइम ब्रांच की स्पेशल सेल और कांदिवली यूनिट ने गिरफ्तार किया था। वह साल 2015 से फरार था और चार राज्यों मुंबई, दिल्ली, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में कई बार छापेमारी के बाद उसे मथुरा से गिरफ्तार किया गया है। उसने फिल्म बनाने में पैसा निवेश किया लेकिन ज्यादातर फिल्में फ्लॉप हो गईं और उसे भारी नुकसान हुआ। वह फिल्म हस्तियों के साथ संबंधों का दावा और एक एक टॉप फिल्म प्रड्यूसर होने का दावा करके कर्ज की जरुरत वाले बिजनेसमैन का विश्वास जीत लेता था।'

PunjabKesari

पहचान बदलकर करता था ठगी

उन्होंने कहा-'अजय यादव ने फर्जी आईडी पर कई फोन नंबर ले रखे हैं और फर्जी फाइनेंस कंपनियों से अलग-अलग फर्जी नामों से कम ब्याज दरों पर करोड़ों रुपये कर्ज दिलाने के बहाने कई कारोबारियों को ठगा है।'

PunjabKesari

शिकायतकर्ता ने राहुल नाथ ने पुलिस को इस बारे में बताया कि उसने एक अखबार में विज्ञापन देखकर आरोपी से संपर्क किया और उसने मुंबई के फाइनेंशियल कंसल्टेंट के निदेशक के रूप अपना परिचय दिया। राहुल नाथ दस साल के लिए 65 करोड़ का लोन चाहते थे और उन्होंने इसे 10 फीसदी प्रति वर्ष की ब्याज की दर देने का आश्वासन दिया। अजय यादव ने उन्हें एडवांस पेमेंट के तौर पर 32 लाख जमा करने के लिए कहा और शिकायतकर्ता को इग्नोर करना शुरू कर दिया। काम की बात करें तो अजय यादव छह फिल्मों 'ओवरटाइम', 'भड़ास', 'लव फिर कभी', 'रणबंका', 'सस्पेंस' और 'साक्षी' को प्रोड्यूस किया है।


Content Writer

Smita Sharma


Recommended News