प्रोड्यूसर बनने के लिए मैंने सभी चुनौतियां का डटकर सामना किया: एराम फरीदी

9/22/2022 4:06:58 PM

नई दिल्ली। अभिनेत्री बनने की चाह रखने वाली प्रोड्यूसर एराम फरीदी ने अपने बारे में बहुत सी बाते शेयर करते हुए बताया कि उनकी यह जर्नी कितनी चुनौती भरी रही। 

1. हमें अपने बारे में कुछ बताएं। छोटे शहर की यह लड़की आज कैसे निर्माता और उद्यमी बनी?
एक निर्माता बनना कोई आसान काम नहीं होता है। निर्माता बनने की जर्नी में मुझे बहुत सारी बाधाओं से लड़ना पड़ा। इस दौर में मुझे कई उतार-चढ़ाव देखने पड़े थे। लेकिन मैंने कभी हार नहीं मानी और हमेशा स्ट्रॉन्ग बनी रही। 

बता दूं कि पहले मेरा सपना अभिनेत्री बनने का था। मैंने एक फिल्म ‘श्रृंगार’ में लीड अभिनेत्री के तौर पर काम भी किया है। लेकिन किस्मत ने मुझे निर्माता बना दिया। आज मैं एक बहुत प्रसिद्ध निर्माता हूं। इसके लिए मैंने कड़ी मेहनत भी की है।

एराम फरीदी बताती हैं कि मैं कानपुर शहर से हूं। मैं 2016 में अभिनेत्री बनने के सपने को पूरा करने के उद्देश्य से मुंबई आई थी। लेकिन मुंबई आकर मैंने फिल्म निर्माण और अभिनय के बारे में बहुत कुछ सीखा। इसके बाद मैंने एक फिल्म प्रोड्यूसर बनने का फैसला लिया। 

2.आपने प्रोडक्शन हाउस कैसे शुरू किया? आपको इसकी प्रेरणा कहां से मिली?
एराम फरीदी बताती हैं, ‘एराम्स एंटरटेनमेंट प्रोडक्शन हाउस मेरा और फैजाली वागले का बहुत बड़ा सपना था। फैजाली वागने मेरे एक फैमिली फ्रेंड हैं। फैजाली वागने इस प्रोडक्शन हाइस के क्रिएटिव प्रोड्यूसर हैं। प्रोडक्शन हाइस शुरू करने का पहला विचार फैजाली वागले का ही था। उन्होंने हर कदम पर मेरा साथ दिया और मदद की है। 

मैं एक निर्माता बनने और तरह-तरह के फिल्मों का निर्माण करने के लिए काफी उत्साहित थी। जब हमने मुबंई में फिल्म निर्माण के बारे में सीखा, तो हमने अपने खुद का प्रोडक्शन हाउस शुरू करने का सोचा।   

मेरे रोल मॉडल मिस्टर राज कपूर हैं। बोनी कपूर, एकता कपूर और कई अन्य बेहतरीन निर्माताओं ने मुझे फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए प्रेरित किया है। मुझे लगता था कि मैं एक निर्माता बन सकती हूं और मैंने इन दौरान आने वाली सभी चुनौतियां का डंटकर सामना भी किया है।  

3.क्या आप फिल्मों के निर्माण के अलावा अभिनय की भी प्लानिंग रही हैं?
जी, हां. एक अभिनेत्री बनने का सपना मेरा हमेशा से ही रहा है। लेकिन एक सफल अभिनेत्री बनने में बहुत समय लगता है। मैंने श्रृंगार, मीत मिस्टर चांग और फेडोरा रिंकल्स (आने वाली फिल्म) जैसी कई फिल्मों का निर्माण किया है। मैंने श्रृंगार फिल्म में लीड अभिनेत्री के रूप में काम भी किया है। मुझे इमोशनल ड्रामा जैसी चुनौतीपूर्ण भूमिकाएं करना बेहद पसंद है। 

4.आप अपने सोशल वर्क और फिल्मों को एक साथ कैसे मैनेज करती हैं?
मेरे द्वारा निर्मित सभी फिल्मों के पीछे एक सामाजिक संदेश होता है। जैसे श्रृंगार फिल्म में महिलाओं के व्यक्तिगत और सामाजिक जीवन में होने वाले संघर्षों के बारे में एक संदेश था।

मीट मिस्टर चांग नस्लवाद से जुड़ी फिल्म थी। अब हमारी आने वाली फिल्म फेडोरा रिंकल्स कर्म पर आधारित है। जो हम करते हैं या देते हैं, यही फिल्म का आदर्श वाक्य है। 

हमारी सभी फिल्मों के पीछे हमेशा एक सामाजिक संदेश होता है। क्योंकि मैं चाहती हूं कि हमारी फिल्में देखने के बाद लोग उनसे कुछ अच्छा सीखें। लोग आसपास हो रही परिस्थितियों को लेकर जागरूक हों। 
इसके साथ ही मैं "शादीबाज" नामक एक नए प्रोजेक्ट पर भी काम कर रही हूं। इससे भी दर्शकों को एक काफी अच्छा सामाजिक संदेश मिलेगा। 

5.एक महिला निर्माता और छोटे शहर की महिला होने के नाते क्या आपको अभी तक कोई प्रशंसा मिली है?
कानपुर जैसे एक छोटे शहर की महिला होने के नाते मुझे निर्माता बनने के सफर में कई चुनौतियों और समस्याओं का सामना करना पड़ा था। लेकिन दूसरी तरफ मुझे लोगों से काफी प्रशंसा भी मिलती रहती है। खासकर कानपुर के लोग और मेरा परिवार मुझ पर काफी गर्व करते हैं। मुझे यह जानकर खुशी होती है कि उन लोगों को मेरा काम पसंद आ रहा है। लोगों के द्वारा मिलने वाली प्रशंसा मुझे और अच्छा करने के लिए प्रेरित करता है। 

मेरी मां सबसे बड़ी प्रशंसक और प्रेरणा हैं। वह टेलीविजन देखना पसंद करती हैं। इसलिए वह मेरे सारे इंटरव्यू देखती रहती हैं। मेरी मां मेरे सफलता की जर्नी की रीढ़ रही हैं। वह सबसे अच्छी दोस्त भी हैं। जब मेरी मां मेरे काम की प्रशंसा करती हैं, तो वहीं मेरे लिए सबसे बड़ी प्रशंसक बन जाती हैं। 

मेरी बहन अमरीन फरीदी ने मेरी शुरुआती जर्नी के बाद हमेशा मेरा मार्गदर्शन किया है। वह मेरे सभी संघर्षों और चुनौतियों को जानती है। उसने हर परिस्थिति में मेरा साथ दिया है। इसके साथ ही  हमारी कंपनी के सहयोगी निर्माता श्री जुनेद शेख ने भी हर स्थिति में मेरा साथ दिया। मेरे आस-पास हमेशा ऐसे लोग रहे हैं, जिन्होंने मुझे हमेशा प्यार किया है और मेरे काम की प्रशंसा की है। इसलिए मैं खुद को काफी भाग्यशाली मानती हूं।

6. क्या बड़े अभिनेताओं के साथ आप भविष्य में कोई बड़ी फिल्म बनाने की प्लानिंग कर रही हैं?
प्रतिष्ठित अभिनेता श्री रजनीकांत के साथ काम करना हमेशा से मेरा सपना रहा है। मैंने अपने पिछले सभी इंटरव्यू में उनका जिक्र भी किया है। मेरी आगामी परियोजना शादीबाज में फिल्म के प्रमुख अभिनेता श्री अभिलाश चौधरी हैं, जो राम गोपाल वर्मा की फिल्म "धनम फेम" के एक प्रसिद्ध अभिनेता हैं।

शादीबाज बॉलीवुड में एक बिल्कुल अलग कॉन्सेप्ट है, जो पहले कभी नहीं देखी गई होगी। मैं सलमान खान के साथ भी काम करना चाहती हूं। यह भी काफी समय से मेरी इच्छा रही है। मैं उनके साथ रील लाइफ में ही नहीं, बल्कि रियल लाइफ में भी काम करना चाहती हूं। क्योंकि उनके व्यक्तित्व ने मुझे हमेशा प्रेरित किया।

7. आपके भविष्य में क्या प्रोजेक्ट आने वाले हैं?
भविष्य के प्रोजेक्ट के बारे में बात करें, तो मैं एक टॉक शो लाने वाली हूं। जिसे ‘पाउ वॉव विद इराम्स’ कहा जाता है। यह शो बिल्कुल अलग और अद्भुत होने वाला है। इस टॉक शो की बनावट भी थोड़ी अनोखी है। इस शो का हिस्सा वे अभिनेता, निर्माता और निर्देशक बनेंगे, जो सुर्खियों से दूर हैं। 

इसके अलावा मेरी आने वाली फिल्म शादीबाज है। हम इस साल के अंत तक इस पर काम करना शुरू करने जा रहे हैं। इसमें अभिलाष चौधरी प्रमुख अभिनेता हैं और फिल्म के निर्देशक मिस्टर फैजाली वागले रहेंगे। 

आने वाले वर्षों के लिए हमारे पास कई अन्य योजनाएं हैं। हमारी टीम में से बहुत लोग अनोखे पुरस्कार भी ला रहे हैं, इसमें "फिल्म क्रू अवॉर्ड" भी शामिल है। 

एराम्स एंटरटेनमेंट क्रिएटिविटी में विश्वास करता है। यह कुछ ऐसा करने वाला है, जो बॉलीवुड में पहले कभी नहीं हुआ है। इसलिए मैं सिर्फ एराम्स एंटरटेनमेंट के लिए आपका साथ चाहती हूं। मैं एक मेहनती महिला हूं और मुझे खुद पर विश्वास है। इसलिए मुझे पता है कि कुछ बड़ा मेरा इंतजार कर रहा है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyotsna Rawat


Related News

Recommended News