एकता कपूर ने बोस्टन और हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में अपने दौरे का एक थ्रोबैक वीडियो किया शेयर!

4/21/2020 2:20:45 PM

नई दिल्ली। इसमें कोई संदेह नहीं है कि एकता (Ekta Kapoor) एक इन्नोवेटर हैं और सफलता से भरपूर उनका यह सफर हमेशा जश्न मनाने लायक रहा है। एकता एक ऐसा नाम हैं जो समाज में बदलाव लाने की सूची में सबसे ऊपर हैं और वह महिला सशक्तिकरण का समर्थन करतीं हैं। कंटेंट क्वीन के कंटेंट में हमेशा कुछ संदेश छिपा होता है और यही वजह है कि उनका कंटेंट टेलीविजन से लेकर ओटीटी और फिल्मों तक तीनों प्लेटफॉर्म पर बेहद पसंद किया जाता है।


एकता कपूर ने उस समय का एक वीडियो शेयर किया है जब वह हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में बिजनेस डेवलपमेंट की पढ़ाई करने के लिए गईं थीं। उस दौर का वीडियो शेयर करते हुए निर्माता ने अपने नवीनतम इंस्टाग्राम पोस्ट में हमारे साथ अपना अनुभव साझा किया है।


हावर्ड पहुंचते ही एकता के साथ हुआ था कुछ ऐसा...
निर्माता ने हार्वर्ड विश्वविद्यालय के अपने दौरे से एक थ्रोबैक वीडियो शेयर किया है जिस वक्त वह थोड़ी उदास भी थीं। एकता लिखतीं हैं, 'साल 2013 में, मैं ओपीएम कोर्स के लिए हार्वर्ड गयी थी। जब हार्वर्ड के छात्रों को पता चला कि मैं वहां आई हूं, तो उन्होंने मुझसे एक इंटरव्यू के लिए पूछा! यह एक छोटी क्लिप है! मैंने बहुत कुछ सीखा है! बहुत सारी केस स्टडी की है! एक अद्भुत फैकल्टी और छात्र जो बहुत बड़े व्यवसायों के मालिक हैं और मुझे आश्चर्य हुआ कि मेरा चयन किया गया (चयन के दौरान वह देखते हैं कि आपका पोर्टफोलियो वहां के मानदंडों से कितना मेल खाता है!)।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

In 2013 I went for the #OPM COURSE AT @harvard ! The students at Harvard got to know I was there n asked me for an interview ! Ths is a small clip! I learnt a lot ! So many case studies ! An amazing faculty n students that r owners of much larger businesses that I was surprised I got chosen!( I have to apply n they see if ur portfolio meets d criteria)! Living in d University n Boston was fun only one disappointment! Even though there were presidents n owners of Organizations of all over d world d ratio of women was surprisingly low maybe less than ten percent ! Reason many women cud not take such along break from home like their male counterparts cud

A post shared by Erk❤️rek (@ektarkapoor) on Apr 20, 2020 at 10:12pm PDT

वीडियो में उदास दिखीं एकता
यूनिवर्सिटी और बोस्टन में रहना मजेदार था लेकिन एक निराशा भी थी! भले ही दुनिया भर के संगठनों के अध्यक्ष और मालिक वहां मौजूद थे लेकिन महिलाओं की संख्या आश्चर्यजनक रूप से कम थी, शायद दस प्रतिशत से भी कम थी! इसका कारण यह है कि कई महिलाएं अपने पुरुष समकक्षों की तरह घर से इतनी लंबी छुट्टी नहीं ले सकती थीं।'


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Chandan


Related News

Recommended News