फिर मुसीबत में फंसे शिल्पा शेट्टी के पति: जुहू स्थित फ्लैट..पुणे वाला बंगला...ED ने जब्त की राज कुंद्रा की 98 करोड़ की संपत्ति

4/18/2024 1:47:23 PM


मुंबई: बाॅलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा एक बार फिर मुश्किलों में फंस गए हैं। ईडी ने बिटकॉइन फर्जीवाड़ा केस में राज कुंद्रा के खिलाफ तगड़ा एक्शन लिया है। ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) ने राज कुंद्रा की 98 करोड़ की संपत्त‍ि जब्‍त कर ली है, जिसमें जुहू का फ्लैट और पुणे में का बंगला भी शामिल है। 

PunjabKesari

 

ED ने ट्वीट किया कि रिपु सूदन कुंद्रा उर्फ Raj Kundra की करीब 97.79 करोड़ रुपये की अचल और चल संपत्ति को अस्थायी तौर पर कुर्क किया गया है। PMLA, 2002 के प्रावधानों के तहत, राज कुंद्रा की इस संपत्ति को कुर्क किया गया है। इसमें पुणे का बंगला, जुहू में स्थित फ्लैट भी शामिल है, जो अभी राज कुंद्रा की पत्नी शिल्पा शेट्टी के नाम पर है। राज कुंद्रा के नाम पर जो इक्विटी शेयर हैं, उन्हें भी जब्त कर लिया गया है। मालूम हो कि अभी भारत में क्रिप्टोकरंसी और बिटकॉइन के माध्यम से बिजनेस करना गैरकानूनी है लेकिन राज कुंद्रा ने बिटकॉइन के जरिए कथित तौर पर बिजनेस किया और इसके लेन-देन में हेरफेर की।

PunjabKesari

 

इससे पहले साल 2018 में प्रवर्तन निदेशालय ने राज कुंद्रा से 2000 करोड़ के बिटकॉइन घोटाला मामले में पूछताछ की थी। ईडी के एक अधिकारी ने तब बताया था कि ठाणे क्राइम ब्रांच में दर्ज केस के मामले में राज कुंद्रा से पूछताछ की गई। तब अध‍िकारी ने कहा था कि यह स्पष्ट नहीं है कि शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा की घोटाले में कोई भूमिका है या फिर वह पीड़‍ित हैं लेकिन अब जिस तरह से संपत्त‍ि जब्‍त की गई है राज कुंद्रा की मुश्‍क‍िलें बढ़ सकती हैं। इससे पहले राज कुंद्रा पोर्नोग्राफी केस में फंस गए थे, जिसमें उन्हें जेल में भी रहना पड़ा था हालांकि बाद में राज कुंद्रा को जमानत मिल गई थी।

PunjabKesari

 

क्या बिटकाॅन घोटाला

बता दें कि पुणे के दो बिजनसमैन अमित भारद्वाज और उनके भाई विवेक भारद्वाज ने अपनी कंपनी 'गेनबिटकॉइन' के जरिए करीब 8,000 से अधिक लोगों को धोखा दिया। ईडी ने मई 2018 में महाराष्‍ट्र पुलिस की FIR के आधार पर गेनबिटकॉइन के अमित भारद्वाज और आठ अन्य के खिलाफ मनी लॉन्‍ड्र‍िंग का मामला दर्ज किया था। इन दोनों भाइयों ने निवेशकों को सुनिश्चित रिटर्न का वादा कर अवैध क्रिप्टो-मनी स्‍कीम चलाकर धोखा दिया। दोनों को पुणे पुलिस ने 5 अप्रैल 2018 को गिरफ्तार किया था।


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Smita Sharma


Related News