''बंगालियों के लिए मछली पकाएंगे..विवादित बयान देकर मुश्किलों में घिरे परेश रावल, माफी मांगने के बाद भी शिकायत दर्ज

12/3/2022 11:47:19 AM

बॉलीवुड तड़का टीम. एक्टर परेश रावल बॉलीवुड के जाने माने एक्टर्स में से एक हैं, जो अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में आ जाते हैं। वहीं हाल ही में परेश रावल अपने एक विवादित बयान को लेकर सुर्खियों में आ गए हैं। गुजरात चुनाव में उन्होंने भारतीय जनता पार्टी का प्रचार के दौरान  बंगालियों को लेकर एक टिप्पणी की थी, जिसे लेकर वह विवादों में घिर गए। अपने बयान को लेकर एक्टर माफी भी मांग चुके हैं, लेकिन अब उनके खिलाफ शिकायत दर्ज हो गई है।

PunjabKesari

 

इस बयान से बवाल

दरअसल, हाल ही में गुजरात के विधानसभा चुनाव के दौरान बीजेपी के लिए प्रचार करते हुए परेश रावल ने कहा, 'गैस सिलिंडर महंगे हैं लेकिन उसकी कीमत कम हो जाएगी। लोगों को रोजगार मिलेंगे, गुजरात में रहने वाले लोग महंगाई बर्दाश्त कर लेंगे, लेकिन बाजू के घर में रोहिंग्या शरणार्थी या बंग्लादेसी आ जाएं तो गैस सिलिंडर का क्या करेंगे? बंगालियों के लिए मछली पकाएंगे?' उनके इस बयान के बाद बवाल शुरू हो गया।

 

नेता मोहम्मद सलीम ने दर्ज कराई शिकायत

पश्चिम बंगाल में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नेता मोहम्मद सलीम ने एक्टर के खिलाफ तलतला के थाने में शिकायत दर्ज कराई है। नेता मोहम्मद सलीम ने पुलिस को दी शिकायत में परेश रावल पर सार्वजनिक मंच पर भाषण के जरिए दंगा फैलाने और देशभर के बंगाली व अन्य समुदाय के लोगों के बीच सद्भाव को खराब करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि एक्टर के बयान से प्रवासी बंगालियों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। उन्होंने पुलिस को दी शिकायत में परेश रावल के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है।

मोहम्मद सलीम ने कहा कि परेश रावल ने जिस तरह से बंगालियों के विषय को उठाया है, उससे ऐसा लगता है कि देश के सभी बंगाली रोहिंग्या या फिर बांग्लादेशी हैं। उन्होंने कहा कि बंगाली पश्चिम बंगाल से बाहर भी रहते हैं और ये उनके लिए हानिकारक हो सकता है। एक्टर के बयान की वजह से बंगालियों को बिना वजह के ही टारगेट किया जा सकता है।

ट्वीट कर मांगी माफी

वहीं आलोचना के बाद परेश रावल ने ट्विटर पर माफी मांगते हुए लिखा था, 'निश्चित रूप से मछली मुद्दा नहीं है क्योंकि गुजराती मछली पकाते और खाते हैं। मैं साफ कर दूं कि मेरे कहने का मतलब सिर्फ अवैध बंग्लादेसी और रोहिंग्या से था। इसके बावजूद अगर मेरी बातों ने आपकी भावनाओं को ठेस पहुंचाई है तो मैं माफी मांगता हूं।'


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

suman prajapati


Related News

Recommended News