आर माधवन की ''रॉकेट्री'' के साथ लॉन्च हुई एक शानदार ऐप Cinedubs, जानें क्या है खास

6/28/2022 5:04:37 PM

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर आर माधवन की फिल्म 'रॉकेट्री: द नांबी इफेक्ट' इस शुक्रवार 1 जुलाई को सभी सिनेमाघरों में दस्तक देने वाली है। फिल्म के ट्रेलर्स को देखने के बाद फैंस इस मूवी का बेसब्री से इंतदार कर रहे हैं। वहीं रिलीज से कुछ दिन पहले फिल्म को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है। 'सिनेडब्स' के ब्रांड एंबेसडर आर माधवन फैंस के लिए एक ऐसा ऐप लेकर आए हैं, जिसके जरिए अब उनके फैंस किसी भी भाषा में बिना सबटाइटल के बड़ी आराम से फिल्म देख पाएंगे। 

 

कैसे करें इस्तेमाल
बता दें कि 'सिनेडुब्स' आठ देशों के दर्शकों को उनकी पसंदीदा भाषा में फिल्म का आनंद लेने की अनुमति देगा। उन्हें बस इतना करना है कि Google Play Store या Apple App Store से मोबाइल ऐप 'Cinedbs' डाउनलोड करें, अपनी पसंद के थिएटर और शो टाइमिंग को चुनें, फिर वह भाषा चुनें जिसमें वे इसे देखना चाहते हैं, और मूल साउंडट्रैक डाउनलोड करें।

 

थिएटर के अंदर जाने के बाद हेडफोन लगाएं फिर ऐप से 'प्ले' बटन दबा दें। इसके बाद जिस भी भाषा में जो सीन स्क्रिन पर चल रहा होगा, आपको अपनी भाषा में वह सुनाई देने लगेगा। बता दें कि यह सुविधा केवल auditorium के अंदर ही उपलब्ध होगी। बाहर एक बार निकलने के बाद ये काम नहीं करेगा। इस वजह से  फिल्म निर्माताओं के लिए पायरेसी का कोई खतरा न हो। बता दें कि रॉकेट्री अंग्रेजी, हिंदी, तमिल, तेलुगु, कन्नड़ और मलयालम सहित छह भाषाओं में रिलीज होगी।

 

भारत ने किया निर्माण
'सिनेडुब्स' को एक भारतीय कंपनी डब्सवर्क मोबाइल प्राइवेट लिमिटेड द्वारा इन-हाउस विकसित किया गया है।  यह टेक्नोक्रेट विनीत कश्यप और आदित्य कश्यप के दिमाग की उपज है। जहां विनीत ने एचसीएल, न्यूजेन सॉफ्टवेयर, विर्कल आईएनसी, एरिसेंट (अल्ट्रान) और फ्रॉग जैसी कंपनियों में सॉफ्टवेयर विकास और उत्पाद प्रबंधन का नेतृत्व किया है, वहीं आदित्य को विमानन, स्वास्थ्य सेवा, सूचना प्रौद्योगिकी और आईटीईएस उद्योगों में लगभग तीन दशकों का अनुभव है।

 

विनीत बताते हैं कि 'सिनेडुब्स' न केवल विश्व सिनेमा को हमारे करीब लाएगा, बल्कि यह देखते हुए कि दुनिया का सबसे बड़ा फिल्म उद्योग कई अलग-अलग भाषाओं में काम कर रहा है, भारतीय सिनेप्रेमी अब क्षेत्रीय सिनेमा की सुंदरता और बहुमुखी प्रतिभा का भी अनुभव कर सकते हैं। "यह, बदले में, अपने अखिल विश्व कवरेज का विस्तार करेगा," उन्होंने जोर देकर कहा। आदित्य कहते हैं कि उनके ऐप से फिल्म उद्योग को भी काफी फायदा होगा, जिसमें प्रदर्शक अलग-अलग भाषाई दर्शकों को एक ही सभागार में आकर्षित करने में सक्षम होंगे, जिससे टिकटों की बिक्री और रियायत से अतिरिक्त राजस्व उत्पन्न होगा।' "इसके अलावा, हमारा ऐप दुनिया में कहीं भी सिनेमाघरों में चल सकता है, जिसके परिणामस्वरूप प्रोडक्शन हाउस अपनी फिल्मों को कई भाषाओं में डब करने की बढ़ी हुई लागत के बिना अपनी पहुंच बढ़ा सकते हैं," वे बताते हैं।

 

खास बात ये है कि इस शानदार ऐप की शुरुआत रॉकेट्री के साथ हुई है। बताते चलें कि फिल्म को इस साल कान फिल्म समारोह में भारत के सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर, नंबी नारायणन, संगीतकार एआर रहमान और माधवन की उपस्थिति में शानदार स्वागत मिला है। दर्शकों से दस मिनट का स्टैंडिंग ओवेशन।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Deepender Thakur


Related News

Recommended News