नेपोटिज्म को लेकर बॉबी देओल का बयान- मेरे पिता एक लीजेंड एक्टर, मुझे कभी उनकी वजह से काम नहीं मिला, 3 साल डिप्रेशन में रहा

3/1/2022 9:18:41 PM

मुंबई. एक्टर बॉबी देओल की फिल्म 'लव हॉस्टल' 25 फरवरी को रिलीज हो गई है। फिल्म में बॉबी के काम को खूब पसंद किया गया है। एक्टर आज जिस मुकाम पर हैं वहां तक पहुंचने के लिए काफी संघर्ष किया है और कई असफलताओं का भी सामना किया है। हाल ही में एक्टर ने नेपोटिज्म और डिप्रेशन का शिकार होने को लेकर बात की है।

PunjabKesari
बॉबी देओल ने कहा- 'मैं खुशकिस्मत हूं कि अपने मां-बाप के घर पैदा हुआ। जब मैंने अपना काम शुरु किया था तो लोग मुझे पसंद करते थे वह मुझे पर्दे पर देखना चाहते थे, जिसके बाद मैंने कई हिट फिल्में दीं। लेकिन बाद में मेरे गलत चुनाव की वजह से मुझे काम मिलना बंद हो गया। अगर नेपोटिज्म के नजरिए से देखें तो मेरे पिता एक लीजेंड एक्टर हैं। उनकी बदौलत मुझे हमेशा काम मिलता, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।'

PunjabKesari
बॉबी देओल ने आगे कहा-  'वह 3 साल तक डिप्रेशन में चले गए थे। उस दौरान मैंने खुद को जाना और खुद ही मैं इससे बाहर निकला। जब मैंने ये देखा कि मेरा परिवार मुझे इस हाल में देखकर परेशान हो रहा है तब मैंने खुद को डिप्रेशन से बाहर निकालने के लिए तैयार किया। उनका कहना है कि फैंस अभी भी मुझे पर्दे पर देखना चाहते हैं।'

PunjabKesari
बता दें 'लव हॉस्टल' में बॉबी ने विलेन का किरदार निभाया है। एक्टर ने हत्यारे विजय सिंह डागर का रोल प्ले किया है। अब एक्टर बहुत जल्द फिल्म बच्चन पांडे में नजर आने वाले हैं। इस फिल्म में बॉबी के साथ अक्षय कुमार और कृति सेनन नजर आएंगे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Parminder Kaur


Related News

Recommended News