शीशे में खुद को देखकर रोती थीं ''टीवी की आनंदी'',घटाया 13 किलो वजन,ट्रांसफॉर्मेशन देख रह जाएंगे हक्के-बक्के

10/29/2020 9:59:48 AM

मुंबई: टीवी सीरियल 'बालिका वधू' से फेमस हुई आनंदी यानी एक्ट्रेस अविका गोर इन दिनों अपने ट्रांसफोर्मेशन को लेकर काफी सुर्खियों में हैं। हाल में ही अविका ने इंस्ट्राग्राम में कुछ हाॅट एंड बोल्ड तस्वीरें शेयर की,जिसमें उन्हें पहचान पाना मुश्किल है। इन तस्वीरों को शेयर कर टीवी की आनंदी ने अपनी पर्सनल लाइफ में अपने वजन घटाने की पूरी कहानी सुनाई। आविका ने बताया है कि उन्होंने अपना 13 किलो वजन कम किया है, लेकिन इसके पीछे स्ट्रेस की कहानी भी बयां की। 

PunjabKesari

एक रात अविका गोर ने खुद को आयने में देखा

अविका ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा-'अभी भी पिछले साल की एक रात मुझे याद है जब मैंने खुद को आईने में देखा और मुझे मैं बिल्कुल पसंद नहीं आई थी। अविका ने लिखा- 'जब मैंने खुद को आईने में देखा और मैं टूट गया। मुझे दुख हुआ और पसंद नहीं आया कि मैंने क्या देखा। बड़े हाथ, पैर, अच्छी तरह से बढ़ाया हुआ पेट। मैंने बहुत ज्यादा इसे बढ़ने दिया था।

PunjabKesari

यदि यह एक बीमारी (थायराइड, पीसीओडी आदि) के कारण हैं तो यह ठीक है क्योंकि यह हमारे नियंत्रण से बाहर होता। लेकिन ऐसा इसलिए हुआ था क्योंकि मैंने कुछ भी और सब कुछ खाया। मैंने बिल्कुल भी वर्कआउट नहीं किया। हमारे शरीर को भी अच्छी तरह से ट्रीट करने के जरूरत होती है, लेकिन मैंने इसकी इज्जत नहीं की।'

PunjabKesari

खुद को ही नापसंद करने लगीं अविका गोर

अविका गोर ने आगे लिखा- 'इन सबका परिणाम यह हुआ कि मैं खुद को नापसंद करने लगी और डांस जिससे मुझे सबसे ज्यादा प्यार था वो भी एंजॉय करना बंद कर दिया। मैं खुद को जज करने में व्यस्त हो गई और दूसरों को मुझे बुरा महसूस कराने में कोई कसर नहीं छोड़ी। इस इनसिक्योरिटी की वजह से मैं थका हुआ महसूस करने लगी और अपने खास लोगों से अलग होने लगी।' 

PunjabKesari

 

ऐसे हुआ ट्रांसफॉर्मेशन 

अविका गौर ने लिखा-आखिरकार एक दिन फैसला किया कि बस अब बहुत हो गया। मैंने खुद पर काम करना शुरू किया। क्योंकि रातोंरात कुछ भी नहीं बदल सकता है। मैंने सिर्फ सही चीजों पर ध्यान देना शुरू किया, जिन चीजों पर मुझे गर्व होना चाहिए (जैसे डांस)। मैं अच्छा खाने और इसपर काम करने की कोशिश करती रही।

PunjabKesari

इस बीच कई असफलताएं  भी मिलीं लेकिन, यह महत्वपूर्ण था कि मैं रुकी नहीं। मेरे लोगों ने लगातार मुझे गाइड किया। लंबी कहानी को संक्षेप में कहूं तो एक सुबह मैंने खुद को आयने में देखा और मुझे खुद को नजरअंदाज करने का मन नहीं किया। मैंने खुद पर मुस्कुराई और खुद को बताया कि मैं सुंदर हूं।'

PunjabKesari

बता दें कि अविका गोर छोटे परदे के सबसे लोकप्रिय नामों में से एक हैं।अविका गोर ने 12 साल की उम्र में शो बालिका वधू से डेब्यू किया।उनके डेब्यू शो बालिका वधू की आनंदी के रूप में याद किया जाता है। अविका ने अपने इस रोल से हर शख्स से दिल में जगह बना ली।

 

 

अविका ने 'बालिका वधू' शो में तीन साल तक काम किया था। इसके बाद अविका नए शो 'ससुराल सिमर का' में नजर आईं थी। इस शो में भी अविका ने एक बहु का किरदार निभाया था। सभी उन्हें इस अंदाज में देख हैरान रह गए थे। अविका ने सिर्फ 16 साल की उम्र में ऐसा रोल निभाया था। सीरियल्स के अलावा अविका कई फिल्मों में भी नजर आ चुकी हैं।   

View this post on Instagram

We make the choices & then the choices make us who we are. Like right now, you chose to read this caption, & this choice makes you AWESOME! Although, I must tell you that I didn't make the best possible choices for a long time & it impacted my life significantly. Where do I start? Vadapav? Oh I love Vadapav! Give me 2 mins, I'll be back. OK wait. No. "No, Avika! Bad choice!" I mean good choice for taste, but bad for health. 🙁 Why couldn't Vadapav be healthy for us? Anyway, between a smile & a frown, I used to subconsciously choose the frown all the time. My face only came to normal when things were great, & I rarely smiled! Between a healthy(which can also be tasty) meal & junk food, you can guess what I always chose. I didn't eat for food, I ate for my mood, and that choice ain't gooood. (Did you try to rhyme it?)😉 I thought, I anyways don't look great, what do I have to lose with a few extra french fries. Well, I know what I gained! (Kgs)😑 Between half glass full and half glass empty, I chose to see the emptiness almost everytime. I would marinate in negative emotions for days at times, & not once count my blessings. But it had to change because these choices were making me hollow!!! And it was really hard. ( Not letting go of Vadapavs, letting go of the negative emotions. ) It took constant reminders, forced reflection & a strong support system for me to gradually move out of the wrong choices. I still make the wrong choices, but it's less frequent & when I do, I quickly try to improve it. After all, it's a short life, the least we can do is try to get better. 😊 What choices did you make today? What would you like to change about them?

A post shared by Avika Gor (@avikagor) on


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Smita Sharma


Related News

Recommended News