माथे पर चंदन टीका..साड़ी.. ग्लैमर की दुनिया छोड़ सन्यासिन बनीं अनुपमा की नंदिनी, कृष्ण की भक्ति में लीन हुईं 22 साल की अनघा भोसले

4/27/2022 10:18:48 AM

मुंबई: बी-टाउन इंडस्ट्री में कई ऐसे स्टार्स हैं जो अपना बुलंदी से भरा करियर छोड़ अध्यात्म का या कोई और रास्ता चुन लेते है। एक्ट्रेस सना खान और जायरा वसीम ने अपने धार्मिक विश्वास के चलते इंडस्ट्री को अलविदा कह दिया था।

PunjabKesari

वहीं 'अनुपमा' में 'नंदिनी' का किरदार निभाने वाली अनघा भोसले ने भी इसी साल मार्च महीने में ऐलान किया था कि वह बी-टाउन की चकाचौंध छोड़कर धर्म और आध्यात्म के रास्ते पर निकल गई हैं।

PunjabKesari

इसी बीच अनघा भोसले की कुछ तस्वीरें सामने आईं जो इस समय चर्चा का विषय हैं।  इन तस्वीरों में अनघा भोसले सन्यासिन के रूप में दिख रही हैं। अनघा ग्लैमर की दुनिया छोड़ अब साधारण से कपड़े पहनती हैं और अपनी जिंदगी अलग तरह से जीती हैं।

PunjabKesari

तस्वीरों में अनघा भोसले साड़ी में दिख रही हैं। उन्होंने माथे पर चंदन बड़ा सा टीका लगाया है।

PunjabKesari
तस्वीरों में अनघा भोसले आम धोती नजर आ रही हैं। फैंस को यकीन नहीं हो रहा है कि अनघा भोसले का ऐसा हाल हो चुका है। लेकिन सन्यास लेने के बाद अनघा भोसले काफी खुश हैं। अनघा भोसले के चेहरे की खुशी इस बात का सबूत है।

PunjabKesari

बता दें कि 22 साल की अनघा भोसले इन दिनों Govardhan Ecovillage में समय बिता रही हैं। चकाचौंंध से दूर अनघा भोसले कृष्ण भक्ति में लीन हैं। इससे पहले अनघा भोसले ने एक तस्वीर शेयर की थी। इस तस्वीर में वह अनघा गाय के तबेले में बछड़े को प्यार करती हुई नजर आ रही थीं। 

PunjabKesari

इंडस्ट्री छोड़ने का ऐलान करते हुए अनघा भोसले ने कहा था -'हरे कृष्णा फैमिली। मुझे पता है आप सभी चिंता करते हैं कि मैं क्यों शो में नजर नहीं आ रही हूं। सभी का शुक्रिया जिन्होंने मुझे इतना प्यार दिया। जिन लोगों को अभी तक ये नहीं पता है कि मैं उन्हें बता देती हूं कि मैंने ऑफिशियली फिल्म और टीवी इंडस्ट्री को अलविदा कह दिया है। मैं चाहती हूं कि आप सभी मेरे डिसिजन की रिस्पेक्ट करें और सपोर्ट करें। मैंने ये फैसला आध्यात्म के रास्ते पर चलने के लिए किया है।'

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by अनघा अरविंद भोसले (@anagha_bhosale)

उन्होंने आगे लिखा था -'मैं विश्वास रखती हूं कि हम सभी भगवान के बच्चे हैं। हम सभी की चाहत एक ही है बस राहें अलग हैं। हम सभी को विश्वास बनाए रखना चाहिए। ईश्वर हमेशा मेरे लिए बहुत ही दयावान रहे हैं।'


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Smita Sharma


Related News

Recommended News