तिरंगे में लिपट इस दुनिया से जाना...दादू के नाम आयुष शर्मा का पोस्ट,आखिरी विदाई की तस्वीरें शेयर कर बोले-''अब फोन में नहीं बजेगा दादा कॉलिंग''

5/13/2022 3:57:39 PM

मुंबई: बाॅलीवुड एक्टर आयुष शर्मा के दादा और पूर्व केंद्रीय संचार राज्य मंत्री पंडित सुखराम शर्मा 10 मई को दुनिया को अलविदा कह गए। आयुष शर्मा के दादा जी ने 94 की उम्र में अंतिम सांस ली। पंडित सुखराम शर्मा के निधन से उनके परिवार को बड़ा झटका लगा। 12 मई को सुखराम शर्मा को राष्ट्रीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दे दी गई जहां राजनीति और फिल्म जगत से कई हस्तियां उन्हें अलविदा कहने पहुंची।

PunjabKesari

आयुष शर्मा ने दादा को मुखाग्नि दी। इस दौरान वह काफी  भावुक और टूटे हुए नजर आए थे। वहीं अब आयुष शर्मा ने दादू के नाम एक भावुक पोस्ट शेयर किया है।

PunjabKesari

एक्टर ने दादू के आखिरी विदाई की तस्वीरें शेयर कर लिखा कि अब फोन में नहीं दादा कॉलिंग बजेगा। तस्वीरों में आयुष बेटे आहिल के साथ मिलकर अपने दादू के पार्थिव शरीर पर फूल चढ़ाते दिख रहे हैं। वहीं एक वीडियो में हम आयुष को दादू की अर्थी को कंधा देते देख सकते हैं।

PunjabKesari

 इन दिल तोड़ देने वाली तस्वीरों के साथ आयुष ने लिखा-'दादा आप जहां भी हों, मुझे यकीन है कि आप मुस्कुरा रहे हैं। आपको वह विदाई मिली जिसके लिए आपने जीवन भर काम किया है। भारतीय तिरंगे में लिपटे इस दुनिया से जाना। यह हमारे जीवन में एक बड़ा खालीपन है जिसे कभी नहीं भरा जा सकता है। आपकी क्रांति से हर भारतीय के हाथ में एक फोन है लेकिन दुर्भाग्य से मेरा फोन अब यह कहते हुए नहीं बजेगा 'दादा कॉलिंग'।'

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Aayush Sharma (@aaysharma)

गौरतलब है कि दिवंगत पूर्व दूरसंचार मंत्री वो शख्स हैं जिन्होंने देश में सेलुलर फोन पर पहली कॉल करके भारत में दूरसंचार क्रांति लाने की तरफ अपना कदम बढ़ाया था। इस तरह से पंडित सुख राम शर्मा न सिर्फ मंडी, हिमाचल प्रदेश बल्कि पूरे देश में सबसे सम्मानित राजनेताओं में से एक रूप में अपनी जगह बनाई।

PunjabKesari

बता दें कि पंडित सुखराम शर्मा को ब्रेन स्ट्रोक के बाद दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 95 वर्षीय राजनेता की शुक्रवार दोपहर को तबीयत बिगड़ने लगी जिसके बाद परिवार ने शनिवार को उन्हें एयरलिफ्ट करके दिल्ली ले जाने का फैसला किया। वहीं बुधवार कोसुखराम शर्मा ने अंतिम सांस लीं।


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Smita Sharma


Related News

Recommended News