Chhatriwali Review: सेक्स एजुकेशन और बेरोजगारी जैसे मुद्दे को सरलता से समझाती दिखीं रकुलप्रीत

1/20/2023 12:08:36 PM

फिल्म - छत्रीवाली (chhatriwali) 
निर्देशक - तेजस डेयोस्कर (Tejas Deoskar)
स्टारकास्ट - रकुल प्रीत सिंह (Rakul Preet Singh) सुमित व्यास (Sumeet Vyas) सतीश कौशिक (Satish Kaushik) राजेश तैलंग (Rajesh Tailang) डॉली अहलूवालिया (Dolly Ahluwalia)
रेटिंग - 3.5/5

Chhatriwali Film Review: हमारे देश में लोग सेक्स और सेक्स एजुकेशन दोनों ही विषयों पर ही बातचीत करने में हिचकते हैं। सेक्स पर बात करना आज भी एक टैबू है। स्कूलों में भी इस टॉपिक के बारे में बच्चों को खुलकर समझाया-पढ़ाया नहीं जाता है। नतीजा ये निकलता है कि लोग कई तरह ही गलतियां कर बैठते हैं। सबसे ज्यादा महिलाओं को भुगतना पड़ता है। एक्ट्रेस रकुल प्रीत सिंह ने 'छतरीवाली' फिल्म में इस गंभीर विषय पर बात करने का बीड़ा उठाया है। ओ.टी.टी. ZEE5 पर आज रिलीज हुई फिल्म 'छतरीवाली' रकुल प्रीत सिंह ने दमदार भूमिका निभाई है। रॉनी स्क्रवाला द्वारा निर्मित तेजस विजय देवस्कर के निर्देशन में बनीं 'छतरीवाली' फिल्म में रकुल एक कंडोम टेस्टर के रोल में नजर आ रही हैं। रकुल ने इस काम को मर्जी से नहीं बल्कि बेरोजगारी की वजह से अपनाया था। इसके बारे में उनके सिवा कोई नहीं जानता है। 

कहानी
फिल्म की पृष्ठभूमि हरियाणा की है। एक बेरोजगार महिला के ऊपर बनी है जो केमिस्ट्री की जीनियस है लेकिन फिर भी उसे नौकरी नहीं मिलती। हार कर वह कंडोम टैस्टर बन जाती है। लेकिन इसमें भी ट्विस्ट है जो कंडोम फैक्ट्री के मालिक सतीश कौशिक आपको फ़िल्म में दिखायेंगे। रकुलप्रीत सान्या ढींगरा नामक लड़की के रोल में है, जो एकदम सीधी बात करना जानती हैं। लेकिन उसका बॉयफ्रेंड जब उसके नजदीक आता है तो कंडोम का यूज नहीं करना चाहता। एक दिन वह देखती है कि जागरुक नहीं होने की वजह से उसकी भाभी दो बार मिसकैरेज करा चुकी हैं और इस कारण उनकी हालत बहुत खराब हो जाती है। ये सब देखकर सान्या बहुत दुखी होती है और खुद कॉपी-किताब उठाकर निकल पड़ती है दुनिया को सेक्स एजुकेशन के बारे में बताने लेकिन ये सबकुछ इतना आसान नहीं होता और तमाम चुनौतियों का सामना करने के बाद सान्या अपने मिशन में कामयाब होती है। लेकिन इस कामयाबी के पीछे चुनौतियों का सफ़र क्या था और कैसा था इसके लिए आपको ओ. टी. टी Zee5 पर login करना होगा ।

एक्टिंग
रकुल इस फिल्म में बेहद चुटीले अंदाज में एक गंभीर विषय पर चोट करती नजर आई हैं। जहां तक एक्टिंग की बात है तो कैसे एक चुलबुली लड़की समाज को जागरुक करने के लिए गंभीर बन जाती  है इन दोनों रूपों को ही एक्टिंग के बल पर साकार करती नजर आई हैं। रकुल प्रीत सिंह उन अभिनेत्रियों में से हैं जो हर बार हर फिल्म में कुछ नया करना चाहती हैं। चूंकि 'छतरीवाली' एक फीमेल लीड फिल्म है तो रकुल के ही कंधों पर एक्टिंग का दारोमदार टिका है। वहीं, दिग्गज एक्टर सतीश कौशिक चिर-परिचत अंदाज में नजर आए हैं। सुमित व्यास, सतीश कौशिक, डॉली अहलूवालिया, राजेश तैलंग ने भी अपनी भूमिका से न्याय किया है। फ़िल्म ज़रूर देखें… अच्छी है …. सेक्स एजुकेशन पर सॉलिड ज्ञान दे रही हैं रकुलप्रीत।

डायरेक्शन
फिल्म का निर्देशन तेजस प्रभा विजय देवस्कर ने किया है। कमाल का डायरेक्शन है। हर किरदार का चयन बहुत समझदारी से किया गया है। सामाजिक विषय को बड़ी सहजता से उजागर करते हुए तेजस ने कंडोम के प्रति लोगों की शर्मीली सोच पर कटीली चोट मारी है। 

म्यूजिक
फिल्म का संगीत मंगेश धकडे, रोहन गोखले, सुमित बेल्लारी ने संयुक्त रूप से दिया है। गंधर्व और सुनिधि का गाया गाना 'स्पैशल एडिशन कुड़ी थिरकाने वाला गीत है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Jyotsna Rawat


Related News

Recommended News