टीवी पर घिसे-पिटे टॉपिक्स पर शो बनने बंद होने चाहिए: विशाल करवाल

Monday, June 19, 2017 10:37 AM
टीवी पर घिसे-पिटे टॉपिक्स पर शो बनने बंद होने चाहिए: विशाल करवाल

मुंबई: टीवी एक्टर विशाल करवाल का कहना है कि छोटे पर्दे पर दिखाई जाने वाली कहानियां पुरानी और घिसी-पिटी होती हैं और इसके जिम्मेदार कलाकार और निर्माता हैं, जिन्होंने इसे बर्बाद किया है। विशाल ने बताया, “मैं इसे बहुत पुरानी मानता हूं। मेरा मानना है कि हम जैसे कलाकारों जिसमें मैं भी शामिल हूं… ने काफी हद तक टेलीविजन को बर्बाद किया है और दर्शक संख्या फिर से पाने में वक्त लगेगा। जब मैं छोटा था, तब टीवी और देखने लायक शोज जैसे ‘मालगुडी डेज’, ‘तारा’, ‘सांस’ या ‘बनेगी अपनी बात..’ देखा करता था, वे शोज आगे की ओर सोच रखने वाले होते थे।”

विशाल ने छोटे पर्दे पर ‘रोडीज’ और ‘स्पिलट्सविला’ जैसे रियलिटी शोज से आगाज किया। अपने करियर का श्रेय वह रियलिटी शोज को देते हैं। उनका मानना है कि रियालिटी शोज लोगों का ध्यान आकर्षित करने में मददगार साबित होते हैं। उनका कहना है कि दोनों शो को कई सीजन आए हैं और करीब 500 से ज्यादा प्रतिभागी इसका हिस्सा रहे हैं, लेकिन उनमें से कुछ ही सक्रिय रूप से काम कर रहे हैं, निर्माता शुरुआत में आपकी मदद करते हैं, लेकिन बाद में अपनी प्रतिभा से खुद जगह बनानी होती है।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !