Movie Review: ''बहन होगी तेरी''

Friday, June 9, 2017 1:20 PM
Movie Review: ''बहन होगी तेरी''

मुंबई: बॉलीवुड एक्टर राजकुमार राव और श्रुति हासन स्टारर फिल्म बहन होगी तेरी आज सिनेमाघरों में अा चुकी है। 9 जून को रिलीज हुई ये फिल्म देखते है क्या कमाल दिखाती है। यह एक रोमांटिक कॉमेडी फिल्म है। जिसमें इसे उत्तर प्रदेश के लखनऊ शहर में दर्शाया गया है। यह कहानी गट्टू (राजकुमार राव) और बिन्नी (श्रुति हासन) की है जो बचपन से ही एक ही कॉलोनी में पले बढ़े हैं। दोनों के घर एकदम अगल-बगल रहते हैं, लेकिन जब बिन्नी बड़ी होती है तो उसके घर में एक सिलसिला शुरू हो जाता है कि अगर कोई भी लड़का छेड़खानी करने की कोशिश करे तो उसको राखी बांधकर भाई बना दिया जाता था। गट्टू को बिन्नी से प्यार होता है, पर घरवाले उन दोनों को भाई-बहन ही समझते हैं। कहानी में ट्विस्ट आता है जब बिन्नी की सगाई राहुल(गौतम गुलाटी) से हो जाती है। फिर उतार-चढ़ाव के बाद आखिरकार नतीजा निकलता है।


बता दें कि फिल्म का डायरैक्शन, रियल लोकेशंस की शूटिंग के साथ ही साथ कैमरा वर्क और सिनेमेटोग्राफी बढ़िया है। लखनऊ के कई हिस्सों की बखूबी दर्शाया गया है। फिल्म का फर्स्ट हाफ बढ़िया है और सेकंड हाफ में आपको टिपिकल हृषिकेश मुखर्जी की फिल्मों के जैसे कन्फ्यूजन वाले पल देखने को मिलते हैं जिसे और सजाया जा सकता था, लेकिन कहानी को देखते रहने का मन करता है और अंततः रिजल्ट भी अच्छा लगता है लेकिन क्लाइमेक्स और बेहतर हो सकता था। राजकुमार ने छोटे शहर के लड़के का बखूबी किरदार निभाया है और उनकी अदाकारी काबिलेतारीफ है। वहीं श्रुति हासन का काम भी ठीक-ठाक है। राजकुमार के दोस्त के रूप में हेरी टेंगरी ने बहुत अच्छा काम किया है, गौतम गुलाटी का काम भी सहज है। गुलशन ग्रोवर ने भी एक बार फिर से अपनी मौजूदगी अच्छे से दर्ज कराई है। दर्शन जरीवाला के होने से कहानी और निखरती है। बाकी किरदारों का काम भी अच्छा है। फिल्म का संगीत और बैकग्राउंड ठीक-ठाक है। जिसे और बेहतर किया जा सकता था।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !